फीमेल कॉन्डम क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है

Read in English
basics of Female condom and how to use it

फीमेल कॉन्डम महिलाओं के लिए गर्भनिरोध का एक तरीका है जिसका इस्तेमाल महिलाएं आसानी से कर सकती हैं। हालांकि इसके पहली बार इस्तेमाल में आपको थोड़ी उलझन हो सकती हैं लेकिन इसके थोड़े अभ्यास से आप इसके उपयोग को आसान बना सकती हैं। पुरुषों के कॉन्डम की तुलना में फीमेल कॉन्डम अधिक प्रचलित नहीं है क्योंकि महिलाएं इका इस्तेमाल करने में असहज महसूस करती हैं। फीमेल कॉन्डम एक पतली थैली के आकार में उपलब्ध होता है जिसे योनि में प्रविष्ट कराना होता है। फीमेल कॉन्डम अच्छी तरह से लुब्रिकेटेड होते हैं। इनके इस्तेमाल से यौन संचारित रोगों से बचाव भी किया जा सकता है। इसके अलावा यह गर्भधारण को रोकने का भी सबसे बेहर विकल्प है। आइए जानते हैं फीमेल कॉन्डम कैसे काम करता है। [ये भी पढ़ें: क्या है बर्थ कंट्रोल शॉट्स और इसके इस्तेमाल के फायदे]

फीमेल कॉन्डम कैसे काम करता है
यौन संचारित रोगों और गर्भधारण दोनों से बचाव के लिए फीमेल कॉन्डम का इस्तेमाल बेहतर है। जो महिलाएं गर्भधारण नहीं करना चाहती हैं और उनके पार्टनर किसी गर्भनिरोध तरीके का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं, यौन संबंधों के दौरान फीमेल कॉन्डम का इस्तेमाल कर सकती हैं। फीमेल कॉन्डम में दोनों तरफ दो रिंग होते हैं। इसका एक छोर बंद होता है जबकि दूसरा छोर खुला होता है। बंद वाले छोर को योनि के अंदर प्रविष्ट किया जाता है। यह थैली के आकार में होता है इसलिए यह स्वयं ही एडजस्ट हो जाता है और यौन संबंधों के दौरान गर्भधारण को रोकता है।

फीमेल कॉन्डम का इस्तेमाल कैसे किया जाता है

  • इसका इस्तेमाल करने से पहले इसकी एक्सपायरी डेट चेक कर लें।
  • फीमेल कॉन्डम पहले से लुब्रिकेटेड होते हैं इसलिए इनमें लुब्रिकेशन की जरुरत नहीं होती
  • अगर आप टैम्पोन्स का इस्तेमाल करना जानती हैं तो आपको अधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। [ये भी पढ़ें: इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव्स के सेवन के दौरान क्या करें और क्या ना करें]
  • फीमेल कॉन्डम को योनि मे प्रविष्ट कराने के लिए आपको सही पोजीशन में आने की जरुरत होगी। इसके लिए आप या तो लेट जाए या खड़े होकर एक पैर कुर्सी पर रख लें।
  • अब कॉन्डम का बंद वाला छोर योनि के अंदर डालें।
  • इस बात का ध्यान रययकें कि प्रविष्ट कराने के बाद कॉन्डम मुड़े नहीं।
  •  कॉन्डम को अपनी अंगुली की मदद से सर्विक्स तक स्लिप कर दें। उतना ही स्लिप करें जितना आप सहज महसूस कर सकें।
  • कॉन्डम का खुला छोर आप बाहर की ओर रखें। यह करीब एक इंच बाहर होगा।
  • जब आप यौन संबंध के लिए तैयार हो तो अपने पार्नटर को सही पोजीशन में रहने को कहें। अपने पार्टनर को कॉन्डम के खुले छोर के बारे में गाइड करें और उनसे उस छोर में ही पेनिट्रेट करने को कहें। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जिनमें गर्भनिरोधक गुण पाएं जाते हैं]
उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "