सीने के फैट को कम करने के लिए योगासन

yoga-to-reduce-chest-fat

pc: accufitness.com / madhyamam.com

सीने पर जमा चर्बी आपके शारीरिक आकार को बिगाड़ सकती है। इसे कम करने के लिए लोग जिम में कड़ी मेहनत करते हैं लेकिन सीने की चर्बी कम करने में योग आपकी मदद कर सकता है। शरीर के अलग-अलग हिस्सों की चर्बी कम करने के लिए अलग-अलग योग आसन आपकी मदद कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि ऐसे कौन-कौन से योगासन है जो आप सीने की चर्बी कम करने के लिए कर सकते हैं।

1. त्रिकोण आसन: त्रिकोण आसन यानि की ट्रायएंगल पोज़ पूरे सीने के फैट को कम करने के लिए बहुत आवश्यक है। सीने को सही आकार देने में काफी मदद करता है।

त्रिकोणासन करने की विधि:

  • इसे करने के लिए सबसे पहले अपने पैरों को फैलाकर खड़े हो जाएं, आपके पंजे समानांतर होने चाहिए। इस समय ध्यान रहे कि आपके शरीर का वजन दोनों पैरो पर बराबर होना चाहिए।
  • अब सांस लें और हाथों को खोलें, इसके बाद सांस छोड़ते हुए अपने सीधे पैर की तरफ मुड़ें। अगर आपके शरीर में लचीलापन अच्छा है तो आप फर्श को हथेली से टच कर सकते हैं। अगर आप ऐसा नहीं कर पाते हैं तो अंगुली की मदद से फर्श को टच करें।
  • एक बार जब आप संतुलन बना लें तो दोबारा पुरानी मुद्रा में आ जाएं। इसी तरह से दूसरे पैर की मदद से करें। इसे करते समय 2 मिनट तक इसी मुद्रा में रहें।[ये भी पढ़ें: कोर मसल्स के कमजोर होने के संकेत]

2. धनुरासन:

इस आसन को करने के लिए आप फर्श पर लेट जाएं और दोनों हाथों से पैर पकड़ कर पेट के बल संतुलन बनाना होता है, इससे सीने के साथ-साथ कमर का फैट भी कम होता है और सीने को सही आकार मिलता है।

धनुरासन करने की विधि:

  • इसे करने के लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं, उसके बाद पैरों को पीछे की ओर मोड़ते हुए पंजे को हाथों से पकड़ें। अब सांस लेते हुए दोनों पैरों को कूल्हों के पास लेकर आएं।
  • उसके बाद सांस छोड़ते हुए पंजे की जगह एड़ियों को पकड़ें। अब सांस लेते हुए चेस्ट और पैर को फर्श से ऊपर की ओर उठाएं। साथ ही इसे करते समय ऊपर की तरफ देखें।
  • इस पोजीशन में 20 सेकेंड तक रहे और उसके बाद सांस छोड़ते हुए इस मुद्रा से बाहर आ जाएं।।[ये भी पढ़ें: पूरे शरीर को मस्कुलर बनाने के लिए प्रभावी सीटेड वर्कआउट]

3. गौमुख आसन:
इस आसन से चेस्ट फैट यानि की सीने की चर्बी तो कम होती ही है, साथ ये गर्भवती महिलाओं के लिए प्रेग्नेंसी के बाद सीने की सही शेप देने और चर्बी कम करने में मदद करता है।

गौमुख आसन करने की विधि:

  • जमीन पर बैठें, अपनी कमर सीधी रखें और कंधे झुकाएं। अपने एक पैर को दूसरे पैर पर रखें और ध्यान रहे की ऐसा करने के दौरान आपकी एक जांघ दूसरी के ऊपर हो।
  • इसके बाद बाएं हाथ को उठाएं और इसको कोहनी से मोड़ें और पीछे की ओर कंधों से नीचे ले जाएं। उसके बाद दार्इ बांह उठाएं, कोहनी से मोड़ें और ऊपर की ओर ले जाकर पीछे पीठ पर ले जाएं। दोनों हाथों की अंगुलियों को पीठ के पीछे इस तरह से रखें कि एक दूसरे को आपस में गूंथ( इंटरलॉक) कर लें।
  • अब सिर को कोहनी पर टिकाकर पीछे की ओर धकेलने का प्रयास करें।जहां तक हो सके आगे देखने की कोशिश करें और अपने हिसाब से आसन को धारण करें, यह आधा चक्र हुआ। पांवों और हाथों की स्थिति बदलते हुए इसे दोहराएं, अब एक चक्र पूरा हुआ।[ये भी पढ़ें: वर्कआउट से बोरियत दूर कर दिलचस्प बनाने के टिप्स]
उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "