थकान को दूर करने के लिए ऑफिस में ही करें ये योगासन

yoga exercises that will remove your fatigue at work

photo credit: wellness.nifs.org

शरीर के थक जाने का कारण अनियमित खान-पान, भागदौड़ भरी जिंदगी और नींद पूरी ना होना होता है। थकान का एक कारण ऑफिस में अधिकतर समय कुर्सी पर बैठे रहना भी हो सकता है। क्योंकि बैठे रहने में भी हमारे शरीर की मांसपेशियां काम करती रहती हैं और फिर थक जाती हैं। लेकिन यहां बताए गए योगासनों की मदद से आप ऑफिस के अन्दर ही खुद को ऊर्जावान रख सकते हैं और थकान से कोसो दूर रह सकते हैं। [ये भी पढ़ें: योगासन की मदद से करें घुटनों के दर्द की समस्या को दूर]

1.सूर्य मुद्रा:

yoga exercises that will remove your fatigue at work
photo credit: b4tea.blogspot.in

इस मुद्रा को करने के लिए जमीन पर आराम की मुद्रा में बैठ जाएं। अब दोनों हाथों की हथेलियों को घुटनों पर रखें। अपने दोनों हाथों की सूर्य अंगुली को हथेली की तरफ मोड़ें और उसे अंगूठे से दबा लें। बाकि अंगुलियों को सीधा रहने दें। इस आसन को आप 10-15 मिनट इसी मुद्रा में सीधे बैठकर कर सकते हैं।

2.प्रार्थना मुद्रा:

yoga exercises that will remove your fatigue at work
photo credit: ntuitiveflow.com

यह मुद्रा आपके शरीर को मजबूत बनाती है और आंखों की रोशनी भी बढ़ाती है। इस आसन को करने के लिए अपने हाथों को जोड़कर नमस्ते की मुद्रा बनाएं और अब हाथों को सिर के ऊपर लेजाकर बीचो-बीच रख लें। इसी मुद्रा में थोड़ी देर बैठकर गहरी सांस लें। [ये भी पढ़ें: कब्ज में राहत दिलाने के लिए लाभकारी हैं ये योगासन]

3.प्राण योगासन: यह आसन आपके तनाव को दूर करता है, जो कि ऑफिस के अन्दर बहुत लोगों को रहता है। इसे करने के लिए आंखों को बंद करके बैठे और अंगूठे के पोर से अनामिका और कनिष्ठिका अंगुली के पोरों को मिलाकर बाकि अंगुलियों को सीधा रहने दें। अब इसी मुद्रा में 10-15 मिनट बैठे रहें।

4.पृथ्वी योगासन:

yoga exercises that will remove your fatigue at work
photo credit: simpleyogaathome.com

यह आसन आपके रक्तचाप को सही करता है। इस आसन के लिए सबसे पहले सुखासन की मुद्रा में बैठ जाएं। अब अपने हाथों के अंगूठे के सिरे को तर्जनी अंगुली के सिरे से दबाएं, बाकि अंगुलियों को सीधा रखें। यह ऑफिस में बिना परेशानी के किए जाने वाले योगासनों में सबसे आसान है।

5.उज्जायी प्राणायाम: जमीन पर आराम की मुद्रा में बैठने के बाद अपने शरीर को बिल्कुल सीधा रखें। अब अपनी नाक के द्वारा जितनी हवा फेफड़ों में खींच सकते हैं, उतनी खींच लें। अब इस हवा को कुछ देर अन्दर रोकते हुए अपने एक नासिका छिद्र को बंद कर दूसरे से छोड़ें और सांस छोड़ते हुए अपने गले से आवाज निकालें। [ये भी पढ़ें: अगर माइग्रेन की समस्या है तो आजमाएं ये योगासन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "