Viparita Karani Or Legs Up: विपरीत करनी योगासन करने की विधि और इसके लाभ

Read in English
Process and Benefits of Viparita Karani Pose

यह योग मुद्रा पैर को स्वस्थ और फिट रखने में मदद करता है।

Viparita Karani Or Legs Up: योग हमें केवल शारीरिक रूप से फिट रहने में मदद नहीं करता बल्कि मानसिक रूप से मजबूत बनाने में भी हमारी सहायता करता है। लैग्स अप पोज या विपरीत करनी आसन फिट और स्वस्थ रहने के लिए सबसे अच्छे योगासनो में से एक है। यह उम्र बढ़ने के लक्षणों को रोकता है और पूरे शरीर में रक्त प्रवाह को बेहतर करने में मदद करता है। यह बोवेल मूवमेंट्स को बेहतर करता है और पाचन को स्वस्थ रखता है। अधिक और पूरा लाभ प्राप्त करने के लिए आपको योग का अभ्यास सही तरीके से करना चाहिए। हम आपको विपरीत करनी योगासन करने की सही विधि और इसके लाभों के बारे में बता रहे हैं। [ये भी पढ़ें: इंसोम्निया की समस्या के लिए लाभकारी योगासन]

Viparita Karnani Yoga asana or legs up yoga pose: विपरीत करनी योगासन करने की सही विधि क्या है

  • विपरीत करनी योगासन कैसे करें
  • विपरीत करनी योगासन के लाभ

विपरीत करनी योगासन कैसे करें

  • दीवार के करीब बैठ जाएं और अपने पैरों को फर्श पर रखें। अपनी पीठ के बल लेट जाए और अपने
  • पैरों को दीवार से लगाकर सीधा करें।
  • अब दीवारों के सहारे अपने पैरों को ऊपर उठाएं।
  • यह थोड़ा असहज हो सकता है लेकिन धीरे-धीरे आपको आराम मिलेगा।
  • अब धीरे-धीरे अपने कूल्हों को ऊपर उठाएं।
  • अपने शरीर को अपने हाथों से सपोर्ट करें।
  • अपनी गर्दन, कंधे और चेहरे को स्थिर रखें।
  • इस अवस्था में 5 मिनट तक गहरी सांस लें और सांस छोड़ें। धीरे-धीरे इस अवस्था से बाहर आएं।

विपरीत करनी योगासन के लाभ

  • इस योगासन को इंवर्टेड लेक पोज के रूप में भी जाना जाता है। यह थके हुए पैरों को आराम देने में मदद करता है।
  • यह दिमाग और शरीर को चिंता से छुटकारा पाने में मदद करता है।
  • जिन लोगों को गठिया की समस्या है, उन्हें दर्द में राहत पाने के लिए इसका अभ्यास करना चाहिए।
  • यह इंसोम्निया और डिप्रेशन से छुटकारा पाने में मदद करता है।
  • इस योगासन का अभ्यास हर रोज करने से यूरिनरी डिसऑर्डर के खतरे को कम करने में मदद मिलती है।
  • यह योग मुद्रा माइग्रेन में राहत दिलाने में भी मदद करती है।

[जरुर पढ़ें: शारीरिक और मानसिक रुप से सक्रिय रहने के लिए योगासन]

ये विपत्ति करनी योग आसन का अभ्यास करने के कुछ लाभ हैं। आप इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "