खाली पेट योगा करने से क्या फायदे होते हैं

Read in English
Reasons Why Yoga should be Practiced on an Empty Stomach

स्वास्थ्य को बेहतर बनाएं रखने के लिए योगा बहुत फायदेमंद होता है। सभी आयु वर्ग के लोग योगा का अभ्यास करते हैं ताकि उनका स्वास्थ्य बेहतर रहे। योगा ना केवल शारीरिक रूप से ताकत प्रदान करता है बल्कि मानसिक रूप से भी शांति प्रदान करता है। योगा का अभ्यास करने के लिए कोई विशिष्ट समय नहीं होता है। आप इसका अभ्यास किसी भी समय कर सकते हैं। हालांकि, यह अनुशंसा की जाती है कि सुबह या शाम में योगा का अभ्यास किया जाना चाहिए क्योंकि शरीर इस समय केंद्रित और शांत रहता है। इसके अलावा, खाली पेट योगा का अभ्यास करने के लिए बोला जाता है। यदि आप खाली पेट योगा का अभ्यास करते हैं तो आपको कोई असुविधा नहीं होगी और अधिक लाभ प्राप्त भी प्राप्त होगा। [ये भी पढ़ें: योगा करने से पहले क्या खाना उचित होता है]

पाचन क्रिया को बेहतर करता है:
खाली पेट योगा का अभ्यास स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है।
यदि आप खाना खाने के बाद योगा का अभ्यास करते हैं तो आपकी पाचन क्रिया प्रभावित होती है और शरीर में ऊर्जा शक्ति को भी कम करता है। इसके अलावा जब आप खाने के बाद योगा करते हैं तो मांसपेशियों में ऊर्जा कम हो जाती जो पाचन क्रिया को रोक देता है।

पेट फूला हुआ लगता है:
यदि आप खाना खाने के बाद योगा का अभ्यास करते हैं तो आपका पेट फूला हुआ या गैस से भरा हुआ महसूस होता है। इस समस्या से बचने के लिए आपको खाली पेट योगा का अभ्यास करना चाहिए। इसके अलावा पाचन क्रिया को बेहतर बनाएं रखने के लिए आपको मसालेदार खाने से बचना चाहिए।  [ये भी पढ़ें: फर्टिलिटी को बढ़ाने के लिए योगासन]

पेट की समस्या:
यदि आप खाने के बाद योगा का अभ्यास करते हैं तो यह पेट से संबंधित कई समस्याओं का कारण बन सकता है। योगा की ऐसी बहुत सी मुद्राएं हैं जिसको करते वक्त पेट और पाचन तंत्र पर दबाव पड़ता है। यह दबाव डाइजेस्चिव टिशू और पेट से संबंधित समस्याओं को नुकसान पहुंचा सकता है। ऐसे में खाली पेट योग का अभ्यास करने की कोशिश करें।

आप अधिक फैट बर्न कर सकते हैं:
यदि आप खाने के बाद योगा का अभ्यास करते हैं तो आपका फैट बर्न नहीं हो सकता है। यदि आप फैट बर्न करना चाहते हैं तो आपको योगा का अभ्यास खाली पेट करना चाहिए क्योंकि यह फैट को अधिक मात्रा में बर्न करता है।

इसलिए, योगा का अभ्यास खाली पेट करना लाभकारी होता है। लेकिन यदि आप योगा सत्र से पहले कुछ खाना चाहते हैं तो आप उच्च पोषक तत्वों का सेवन कर सकते हैं। योगा सत्र के दौरान इस इसे पचाना आसान होता है जिससे ऊर्जा भी प्रदान किया जा सकता है।  [ये भी पढ़ें: कितनी बार योग का अभ्यास करना बेहतर होता है]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "