इन पॉवरफुल योगासन की मदद से बनाएं सिक्स पैक ऐब्स

powerful yoga asanas to build six pack Abs

photo credit: hibasport.com

सभी को योग करने के फायदों के बारे में पता है कि यह शरीर को आराम पहुंचा कर ताजा महसूस कराता है। साथ ही इससे शरीर सही शेप में भी रहता है। पर क्या आपका पता है योग की मदद से सिक्स पैक ऐब्स बनाएं जा सकते हैं? 2-3 हफ्तों तक सही तरह से कुछ योगासन का अभ्यास करके सिक्स पैक ऐब्स बनाए जा सकते हैं। तो आइए आपको इन योगासन के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: गुस्से को नियंत्रित करने के लिए इन योग मुद्रा का अभ्यास करें]

1-वीरभद्रासन:

यह योगासन अंदरुनी मजबूती में सुधार करने में मदद करता है। इसके साथ ही यह पैरों को टोन करने में मदद करता है। यह वर्कआउट शरीर के लिए प्रभावी होता है।
इसे करने के लिए दाया पैर घुटने से मोड़ते हुए आगे की तरफ लाएं। उसके बाद बाएं पैर को 90 डिग्री के कोण पर दायें पैर से दूर रखें। उसके बाद अपने हाथों को साइड में फैल लें। इस मुद्रा में 60 सेकेंड तक रहें।

2-ताड़ासन:

इस योगासन का इस्तेमाल कई तरह के योगासन करने के लिए किया जाता है। यह वार्मअप करने के लिए महत्वपूर्ण योगासन है। जिसके कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं और ऐब्स को टोन करने में मदद करता है।
इसे करने के लिए मैट पर अपने दोनों पैरो को जोड़कर खड़े हो जाएं। उसके बाद अपने हाथों को ऊपर की तरफ लेकर जाएं और गहरी सांस ले और छोड़े। इस दौरान अपने पैर की अंगुली से लेकर हाथ की अंगुलियों तक खिंचाव महसूस करें। इस मुद्रा में 3-5 मिनट तक रहें। उसके बाद हाथों को नीचे लाकर पुरानी अवस्था में वापिस आ जाएं। [ये भी पढ़ें: गर्मी से राहत पाना है तो आज से ही करें ये योगासन]

3-अधोमुख शवासन:

यह योगासन शरीर के कई अंगों के लिए फायदेमंद होता है। यह आपके पैर, रीढ़ की हड्डी और ऐब्स को हार्ड करने में मदद करता है।
इसे करने के लिए अपने घुटनों पर बैठ जाएं। उसके बाद आगे की तरफ झुकें और अपने हाथों को आगे की तरफ फर्श पर रखें। अपने पंजों को अंदर की तरफ रखते हुए अपने कूल्हे को ऊपर की तरफ उठाएं। इस समय आपकी एड़ियां फर्श से ऊपर होनी चाहिए। इस मुद्रा में थोड़ी देर तक रहें। फिर अपने कूल्हे को नीचे करते हुए नीचे आ जाएं।

4-प्लैंक पोज:

प्लैंक पोज एक योग नहीं है मगर इसे करने के कई फायदे होते हैं। यह ऐब्स बनाने के साथ शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है।
इसके करने के लिए पुश-अप पोजीशन में आ जाएं। इस दौरान पैर बिल्कुल सीधे रखें। इस पोजीशन में आने के बाद अपने, पेट, जांघ की मांसपेशियों को टाइट करें। पैरों की अंगुलियों की मदद से पैरों को ऊपर करें और इस मुद्रा में 45-60 सेकेंड तक रहें। इस तरह थोड़े समय बाद दोबारा करें। [ये भी पढ़ें: सिर्फ15 मिनट योग अभ्यास से बेहतर करें अपनी रोग प्रतिरोध क्षमता और लचीलापन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "