सुदर्शन क्रिया करने की विधि और इससे होने वाले स्वास्थ्य लाभ

how to do Sudarshan kriya and its benefits

सुदर्शन क्रिया एक योग है जिसमें अलग तरीके से सांस लेने का अभ्यास किया जाता है। जिसमें चक्रीय सांस लेने के पैटर्न से सांस को धीमे से तेज और उत्तेजित किया जाता है। इस क्रिया में सांस पर कंट्रोल किया जाता है। जिसका व्यक्ति के इम्यून सिस्टम और नसों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। तनाव, चिंता को दूर करने के लिए भी सुदर्शन क्रिया की जा सकती है। इसे करने से कोई भी खतरा नहीं होता है साथ ही शरीर और दिमाग पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। सुदर्शन क्रिया जीवन को बेहतर बनाने के लिए अच्छा उपाय है। तो आइए आपको इस क्रिया को करने के फायदों और करने की विधि के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: हिप्स को सही शेप में लाने के लिए ये दो योगासन हैं लाभदायक]

सुदर्शन क्रिया करने की तकनीक:

1-उज्जायी:
उज्जायी में आपको इस तरह सांस लेनी होती है कि आप उसे महसूस कर सकें। आप अपने गले को छूकर सांस को महसूस कर सकते हैं। उज्जायी धीरे सांस लेने की एक प्रक्रिया है जिसमें जब आप सांस लेते और छोड़ते हैं तो सांस लेने और छोड़ने का समय बराबर होना चाहिए। इस तकनीक में आपको 1 मिनट में 2-4 बार सांस लेनी होती है। धीरे सांस लेने से आप इस पर कंट्रोल करना सीखते हैं।

2- भस्त्रिका: भस्त्रिका में आपको जल्दी-जल्दी और बलपूर्वक सांस लेनी व छोड़नी होती है। इसे करते समय आपको 1 मिनट में 30 बार सांस लेनी व छोड़नी होती है। सांस लेने का यह तरीका छोटा और जल्दी होता है। इसमें सांस छोड़ने का समय सांस लेने से दोगुना होता है। भस्त्रिका का शरीर पर एक अलग प्रभाव पड़ता है जिसमें शरीर को उत्तेजित करके शांत किया जाता है। [ये भी पढ़ें: योगासन जिनसे बढ़ती उम्र में भी जवान रहा जा सकता है]

3-ओम का जाप करना:
ओम का जाप करने से यह आपको जीवन के उद्देश्य के करीब ले जाता है। जब आप ओम का जाप करते हैं तो यह तीन भागों में बट जाता है। जिससे आपको शांति मिलती है।

4-क्रिया: इसे करने का सबस महत्वपूर्ण भाग क्रिया होती है। जो सांस लेने का एक एडवांस तरीका है। इसमें आपको धीरे, फिर थोड़ा तेज और बाद में काफी तेज सांस लेनी होती है। यह स्टेप आपकी दृष्टि को साफ करने में मदद करता है।

सुदर्शन क्रिया करने का फायदे:

  • यह आपके स्वास्थ्य में सुधार करती है।
  • यह आपकी ऊर्जा के लेवल को बढ़ाकर इम्यून सिस्टम को मजबूती प्रदान करता है।
  • कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करके अंगों के कार्य में सुधार करता है।
  • सुदर्शन क्रिया तनाव और चिंता को कम करने में मदद करती है।
  • सुदर्शन क्रिया आपकी नींद में सुधार करती है। [ये भी पढ़ें: बेहतर रनिंग के लिए करें ये योग]
उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "