International Yoga Day 2018: बालों को घना और स्वस्थ बनाने के लिए योगासन

Read in English
amazing yoga poses for hair growth

International Yoga Day 2018:  हम में से अधिकतर लोगों के लिए बालों का गिरना और टूटना एक बड़ा चिंता का विषय होता है जिससे हम परेशान रहते हैं। लाइफस्टाइल और पर्यावरण में बदलाव के कारण बालों के झड़ने की समस्या हो सकती है। तनाव या शरीर में पानी की कमी समस्या के कारण भी बाल टूट सकते हैं। आपके बाल आपके संपूर्ण स्वास्थ्य को दर्शाते है। इनसे पता चलता है कि आप कितने स्वस्थ हैं। हालांकि अब आप इस समस्या से निजात पा सकते हैं। कुछ योगासन की मदद से बालों के झड़ने की समस्या दूर करके इन्हें घना बनाया जा सकता है। तो आइए आपको इन योगासन के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: मानसिक स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए करें ये योगासन]

International Yoga Day 2018: स्वस्थ बालों के लिए किन योगासनों का अभ्यास करना चाहिए:

  • योगासन कैसे बालों के विकास में मदद करता है?
  • अधोमुख शवासन
  • उत्तानासन
  • वज्रासन
  • उष्ट्रासन
  • शशांकासन

योगासन कैसे बालों की वृद्धि में मदद करता है:  योग खोपड़ी को उत्तेजित करके इसमें रक्त और ऑक्सीजन का प्रवाह बढ़ा देता है। इससे हेयर क्यूटिकल्स पुर्नजीवित होते हैं और बालों की जड़ों को पोषक तत्व मिलते हैं। इसके साथ ही योगा तनाव को कम करने में मदद करता है जो बाल झड़ने का प्रमुख कारण है। यह थायरॉइड ग्रन्थि को भी नियमित करता है। यह ग्रन्थि बालों की वृद्धि में महत्वपूर्ण होती है।

1-अधोमुख शवासन:

इस आसन को करने के लिए सबसे पहले घुटनों के बल बैठ जाएं। इसके बाद कमर को मोड़ते हुए हाथों को आगे की ओर सीधा करें। उसके बाद हाथेलियों पर शरीर का वजन डालते हुए पंजों के बल खड़ें हो जाएं। उसके बाद कमर को ऊपर की तरफ उठाएं। इस मुद्रा में थोड़ी देर रहें। [ये भी पढ़ें: अपनी जांघों और कूल्हों को शेप में लाने के लिए करें ये योगासन]

2-उत्तानासन:

इस आसन को करने के लिए सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं। उसके बाद कमर को मोड़ते हुए हाथों से पंजों को स्पर्श करें। इस दौरान आपकी कमर मुड़नी नहीं चाहिए। आप इसे करते समय पंजों या एड़ियों को पकड़ें। इस मुद्रा में 10-20 सेकेंड तक रहें। [ये भी पढ़ें: जानिए उत्तानासन करने की विधि और इसके स्वास्थ्य लाभ]

3-वज्रासन:

इसे योगासन को करने के लिए सबसे पहले पैर फैलाकर फर्श पर बैठ जाएं। उसके बाद पैरों को मोड़ें और पैरों की अंगुलियों के सहारे एड़ियों पर बैठ जाएं। अब एड़ी को नीचे करें उस पर बैठ जाएं। इस तरह से थोड़ी देर बैठे रहें। [ये भी पढ़ें: वज्रासन करने की विधि और इससे मिलने वाले स्वास्थ्य लाभ]

5-उष्ट्रासन:

इस आसन को करने के लिए सबसे पहले घुटनों के बल बैठ जाएं। उसके बाद घुटनों के बल खड़ें हो और पीछे की तरफ मुड़ते हुए हाथों से पंजों को पकड़ें। इस दौरान अपने पेट को मोड़े नहीं। इस मुद्रा में थोड़ी देर रहें। [ये भी पढ़ें: उष्ट्रासन करने की विधि और इससे होने वाले स्वास्थ्य लाभ]

6-शशांकासन:

इस आसन को करने के लिए सबसे पहले घुटनों के बल बैठ जाएं उसके बाद सिर को फर्श पर घुटनों के पास रखते हुए हाथों से टखने को टच करें। उसके बाद हाथों को घुटनों पर रखें। इसके बाद हाथों से एड़ी को पकड़ें। इस मुद्रा में थोड़ी देर रहें।

[जरूर पढ़ें: भुजपीड़ासन करने की सही विधि और इससे होने वाले लाभ]

योगा का अभ्यास स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होने के साथ-साथ बालों के लिए लाभकारी होता है। लेकिन इसका अभ्यास नियमित रूप से करना चाहिए, तब ही आप इनके लाभों को प्राप्त कर सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "