हर रोज जिम जाने के बाद भी आपका वजन क्यो नहीं घट रहा है

Read in English
why you are not losing weight even after working out

आजकल हर कोई वजन कम करने की कोशिश कर रहा है क्योंकि डेस्क जॉब, खराब जीवनशैली और अस्वस्थ आहार के कारण वजन नियंत्रित करना काफी मुश्किल हो जाता है। इसलिए वजन कम करने के लिए लोग हर तरीका आजमाते हैं जैसे योगा, डांस, एरोबिक्स, डाइट, और जिमिंग। हालांकि किसी भी चीज की अधिकता आपके शरीर को नुकसान पहुंचाती है चाहे फिर वह हर रोज जिम जाने और वर्कआउट करने जैसी स्वस्थ आदत ही क्यों ना हो। अगर आप हर रोज जिम में घंटों पसीना बहाते हैं और प्रभावी वर्कआउट का अभ्यास कर रहे हैं और फिर भी आपका वजन कम नहीं हो रहा है तो इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। जिम में कई घंटे मेहनत करने से जहां आपको वजन कम करने में मदद मिलती है वहीं यह आपकी वजन कम करने के प्लान को प्रभावित भी कर सकता है। आइए जानते हैं कि हर रोज जिम जाने के बाद भी आपका वजन क्यो नहीं घट रहा है। [ये भी पढ़ें: अपने शरीर के फैट पर्सेंटेज को कैसे मांपे]

अधिक कार्डियो करना
कार्डियो वर्कआउट रुटीन का एक जरुरी हिस्सा है। यह आपके दिल को स्वस्थ रखता है, मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और पसीना निकालने में मदद करता है। हालांकि केवल कार्डियो करना और अधिक कार्डियो करना आपके मसल्स मास को कम करता है जिसके कारण आप अधिक कैलोरी बर्न नहीं कर पाते हैं, साथ ही यह आपकी भूख को बढ़ाता है जिससे आप अनहेल्दी स्नैकिंग करते हैं।

आप अधिक खा रहे हैं
अगर हर रोज जिम जाने और वर्कआउट करने के बाद भी आप वजन नहीं घटा पा रहे हैं तो इसके पीछे का कारण अधिक खाना हो सकता है। वजन कम करने के लिए कैलोरी का घटना जरुरी है। इसका मतलब है कि आप जितनी कैलोरी का सेवन कर रहे हैं, आपको उससे अधिक कैलोरी बर्न करना होता है। इसलिए जब भूख लगे तब ही खाएं, और धीरे-धीरे खाएं। [ये भी पढ़ें: बेली फैट कम करने के लिए कौन से फलों का सेवन करें]

वेट लिफ्टिंग ना करना
वजन कम करने के लिए आपको कार्डियो के साथ साथ कुछ स्ट्रेंथ ट्रेनिंग भी करनी होती है। वेट लिफ्टिंग से आपकी मसल्स टोन होती है साथ ही आप अधिक फैट बर्न कर पाते हैं। इसके अलावा आप अपने वर्कआउट में बॉडी वेट एक्सरसाइज और इंटरवल ट्रेनिंग भी शामिल कर सकते है।

रिकवरी को समय नहीं देना
वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज जितना जरुरी है उतना ही आराम भी महत्वपूर्ण है। इसलिए अपने वर्कआुट रुटीन को इस तरह प्लान करें कि एक दिन आप फुल बॉडी वर्कआउट करें और उससे अगले दिन केवल कार्डियो, स्ट्रेचिंग या रेस्ट करें। इससे आपके शरीर को रिकवरी करने का समय मिलता है, मसल्स बिल्ड होती हैं और आपका शरीर फैट बर्न करता है।

गलत आहार लेना
आपका वजन कम करना 80 प्रतिशत आपके आहार पर निर्भर होता है। अगर आप एक्सरसाइज कर रहे हैं और सही आहार नहीं ले रहे हैं तो आप अपने लक्ष्यों को पूरा नहीं कर पाएंगे। इसलिए जब आप स्ट्रेंथ ट्रेनिंग कर रहे हैं तो स्टार्ची कार्ब्स खाएं और कार्डियो या रेस्ट वाले दिन प्रोटीन और सब्जियां खाएं। [ये भी पढ़ें: वजन कम करने के लिए दोपहर के खाने में क्या खाएं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "