Fat Burning Exercise: सिर्फ 7 मिनट वर्कआउट की मदद से फैट को घटाएं

Read in English
Exercise for Belly Fat

Fat Burning Exercise: वर्कआउट फैट बर्न करने के लिए बहुत प्रभावी होते हैं।

Fat Burning Exercise: शरीर पर जमा अतिरिक्त फैट आपकी फिटनेस और शारीरिक मजबूती को कम करता है। दरअसल पोषक तत्वों से रहित भोजन और जीवनशैली के बिगड़ जाने की वजह से पेट के आसपास और शरीर के दूसरे अंगों पर फैट बढ़ने लगता है और आप मोटे हो जाते हैं। लेकिन अब आप दिन में कुछ देर एक्सरसाइज करके अतिरिक्त फैट को हटा सकते हैं। सिर्फ 7 मिनट में किए जाने वाले वर्कआउट की मदद से आप शरीर के अतिरिक्त फैट को घटा सकते हैं। तो आइए आपको 7 मिनट में किन वर्कआउट की मदद से वजन घटा सकते हैं के बारे में बताते हैं। [ ये भी पढ़ें: कार्बोहाइड्रेट का सेवन वजन कम करने में कैसे मदद करता है]

एक्सरसाइज(Exercise) जिनकी मदद से फैट घटाया(Fat Burn) जा सकता है:

  • 7 मिनट वर्कआउट क्या है?
  • लेग एक्सटेंशन
  • नी टू एल्बो पुश-अप्स
  • रिवर्स लंज विद फ्रंट किक
  • एंकल टच क्रंच
  • लेग रेज विद टोए टच
  • साइड ऑब्लिक क्रंच
  • माउंटेन क्लाइंबर

7 मिनट वर्कआउट क्या है:
7 मिनट में किये जाने वाले इस वर्कआउट में कुछ हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग एक्सरसाइज शामिल की गई है, जिनके सेट्स आपको 7 मिनट के अन्दर करने होते हैं। इन एक्सरसाइज का एक सेट 50 सेकेंड के अन्दर करें और फिर 10 सेकेंड आराम करने के बाद दूसरा सेट करें। यह वर्कआउट आपके हृदय गति को बढ़ाकर और कोर मसल्स का तापमान बढ़ाकर मेटाबॉलिज्म रेट को तेज करता है। जिससे फैट बर्निंग की प्रक्रिया के लिए शरीर तैयार होता है। हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग में एक्सरसाइज के दौरान ही मसल्स पर अधिक दबाव पड़ता है और साथ-साथ मसल्स को आराम भी दिया जाता है। जिस वजह से आपको जल्दी और बेहतर परिणाम प्राप्त होते हैं।

लेग एक्सटेंशन:

यह एक्सरसाइज पैरों को मजबूत बनाने के साथ जांघों का फैट घटाती है। इसे करने के लिए लेग एक्सटेंशन मशीन पर बैठकर कमर को सीधा रखें और पैरों को कूल्हों के सामने लेकर आएं। अब धीरे-धीरे पैरों को नीचे ले जाएं।

नी टू एल्बो पुश-अप्स:

यह एक्सरसाइज कोर मसल्स के फैट को घटाने में काफी असरदार होती है। इसे करने के लिए पुश-अप्स की पोजीशन में आएं, अब पुश-अप्स का एक रैप करके दायें घुटने को दाई कोहनी की तरफ लेकर आएं और फिर इसे शुरूआती पोजीशन में ले जाएं। इसके बाद बायें घुटने को बायीं पोजीशन में लेकर आएं और फिर शुरूआती पोजीशन में ले जाकर इस प्रक्रिया को दोहराएं।

रिवर्स लंज विद फ्रंट किक:

इस एक्सरसाइज को करने के लिए पैरों को कमर जितना खोलकर खड़े हो जाएं। अब बायें घुटने को पीछे ले जाकर लंज करें, इसके बाद सीधा खड़े होते हुए बायें पैर को आगे की तरफ उठाएं। इस प्रक्रिया को दूसरे पैर से भी दोहराएं। इसके अलावा कौन से सुपरफूड्स के सेवन से आप वजन घटा सकते हैं, जानने के लिए क्लिक करें।

एंकल टच क्रंच:

इस एक्सरसाइज को करने के लिए जमीन पर कमर के बल लेट जाएं। अब पैरों को ऊपर की तरफ सीधा उठा लें और हाथों को भी छाती के ऊपर की तरफ सीधा रखें। अब गर्दन और कमर को एक सीध में उठाकर हाथों से एड़ियां छूने की कोशिश करें।

लेग रेज विद टोए टच:

इस एक्सरसाइज को करने के लिए जमीन पर कमर के बल लेट जाएं और हाथों को कूल्हों के दोनों तरफ रख लें। अब पैरों को मिलाकर कूल्हों के ऊपर की तरफ सीधा लेकर आएं। इसके बाद दोनों हाथों से पंजों को छुएं और फिर पैरों को वापस शुरूआती पोजीशन में लाएं। इस प्रक्रिया को दोहराएं।

साइड ऑब्लिक क्रंच:

इस एक्सरसाइज को करने के लिए दायें फोरआर्म को दायें कंधे के नीचे रखकर प्लैंक की पोजीशन में आएं और बायें हाथ को सिर के पीछे लगा लीजिए। अब कूल्हों को जमीन की तरफ लाते हुए बायीं कोहनी को कमर की तरफ लाएं। इस प्रक्रिया को दूसरी तरफ से भी दोहराएं।

माउंटेन क्लाइंबर:

इस एक्सरसाइज को करने के लिए हाई प्लैंक की पोजीशन में आ जाएं और फिर बायें घुटने को पेट की तरफ लेकर आएं और उसके बाद वापस सीधा कर लें। इस गति के साथ ही दायें घुटने को पेट की तरफ लाकर सीधा कर लें। इस प्रक्रिया को तेज-तेज दोहराएं। [ये भी पढ़ें: कौन सी शाकाहारी खाद्य पदार्थों से प्रोटीन प्राप्त करके वजन घटा सकते हैं]

बेली फैट कम करने के लिए लो-फैट वाले खाद्य पदार्थो के सेवन के अलावा एक्सरसाइज भी प्रभावी होते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "