वेट लॉस हॉर्मोन कौन से होते हैं और उन्हें कैसे बढ़ाएं

Read in English
how to increase weight loss hormones

वजन कम करना (वेट लॉस) एक मुश्किल प्रक्रिया है, जिसके लिए काफी मेहनत और दृढ़ निश्चय की जरुरत होती है। हमें अपने शरीर का वजन संतुलित रखना चाहिए, क्योंकि इसके ज्यादा होने से कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। वजन कम करने की प्रक्रिया कुछ हॉर्मोन पर निर्भर करती है, जिनकी सक्रियता आपका वजन जल्दी कम करने में मदद करती है। इसलिए अगर काफी एक्सरसाइज करने के बाद भी आपका वजन कम नहीं हुआ है तो आप इन हॉर्मोन को सक्रिय करके पतला हो सकते हैं। आइये जानते हैं कि वजन कम करने वाले हॉर्मोन कौन से होते हैं और उन्हें कैसे बढ़ाया जाता है। [ये भी पढ़ें: महिलाओं के बॉडी फैट घटाने से जुड़ी जानकारी]

लेप्टिन हॉर्मोन:
which hormones are weight loss hormone and how you can increase them लेप्टिन हॉर्मोन हमारी भूख को नियंत्रित करने में मदद करता है, जिससे आपके दिमाग को महसूस होता है कि पेट भरा हुआ है। दूसरी तरफ यह भूख बढ़ाने वाले हॉर्मोन घ्रेलिन का उत्पादन कम करने में भी मदद करता है।

कैसे बढ़ाएं: कम और अधूरी नींद लेने से लेप्टिन का स्तर गिरने लगता है। इसलिए हर व्यक्ति को सामान्यतः 7-8 घंटे की नींद रोजाना लेनी चाहिए। [ये भी पढ़ें: गलतियां जो वेट लॉस डाइट पर पुरुष करते हैं]

टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन: पुरुषों में मसल्स के विकास के लिए टेस्टोस्टेरोन हार्मोन बहुत जरुरी है। यह इसके साथ ही वजन कम करने में भी मदद करते हैं। इस हॉर्मोन का उत्पादन बढ़ने से शरीर में इंसुलिन सहनशीलता बढ़ती है और शरीर कैलोरी को फैट की जगह ऊर्जा के लिए ज्यादा इस्तेमाल करता है।

कैसे बढ़ाएं: मसल्स ग्रोथ और फैट घटाने के लिए टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन को हैवी वेट के साथ वर्कआउट करने पर बढ़ाया जा सकता है।

कोलेसीस्टोकिनिन और पेप्टाइड हॉर्मोन: जब भी हम कुछ खाते हैं तो हमारी आंतें कोलेसीस्टोकिनिन, ग्लूकागन- जैसा पेप्टाइड 1, और पेप्टाइड वाई वाई हॉर्मोन उत्पादित करती हैं। यह हॉर्मोन शरीर में खाद्य पदार्थों का पाचन समय बढ़ा देता है और आपको काफी देर तक भूख नहीं लगने देता है।

कैसे बढ़ाएं: कोशिश करें कि आपके आहार में 20-25 ग्राम प्रोटीन की मात्रा होनी चाहिए। इसके साथ ही कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट और वेजिटेबल फैट्स की मात्रा को भी शामिल करें।

टी3 और टी4 हॉर्मोन: थाइरॉइड से उत्पादित टी3 और टी4 हॉर्मोन आपकी कैलोरी बर्न करने की क्षमता को बढ़ाता है। इसलिए अगर आपका वजन एकदम बढ़ने लगा है तो शायद आपके थाइरॉइड हॉर्मोन नकारात्मक रूप से प्रभावित हो रहा है।

कैसे बढ़ाएं: आयोडीन की कमी के कारण थाइरॉइड हॉर्मोन कम काम करने लगते हैं, इसलिए आयोडीन युक्त नमक और समुंद्री खाद्य पदार्थों का सेवन करें। [ये भी पढ़ें: टिप्स जिनकी मदद से कामकाजी लोग वजन कम कर सकते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "