इन कारणों से अपर एब्डॉमिनल फैट बढ़ता है

Read in English
what are the reasons that cause upper abdomen weight gain

Photo Credit: ehonami.blob.core.windows.net

पेट के उपरी हिस्सा वसा(अपर एब्डॉमिनल फैट) या विसेरल फैट के इकट्ठे होने के कारण बढ़ जाता है। इसके कारण पेट का ऊपरी हिस्सा बढ़ जाता है। विसेरल फैट एक तरह का वसा है जो आपके एब्डॉमिनल वॉल्स और ऑर्गन्स के बीच स्थित होता है। पेट का ऊपरी हिस्सा बढ़ने के कई कारण होते हैं, जैसे-एक्सरसाइज नहीं करना या तनाव। इसकी वजन से आपके शरीर का शेप बिगड़ जाता है और कई शारीरिक समस्याएं भी हो जाती हैं। तो आइए जानते हैं और किन-किन कारणों की वजह से अपर एब्डॉमिनल फैट बढ़ता है। [ये भी पढ़ें: तनाव भी हो सकता है आपके वजन बढ़ने का कारण]

एक्सरसाइज नहीं करने से:

what are the reasons that cause upper abdomen weight gain
Photo Credit: huffingtonpost.co.uk

एक्सरसाइज नहीं करने से शरीर की ऊर्जा कम हो जाती है जिससे हमेशा थकावट महसूस होने लगती है, जो अपर एब्डॉमिनल फैट बढ़ने का एक कारण होता है। इसके अलावा एक्सरसाइज नहीं करने से शरीर शारीरिक गतिविधि कम हो जाती है जिसके कारण अपर बेली फैट बढ़ जाता है। एक्सरसाइज नहीं करने से फैट शरीर में जमा होने लगता है।

खराब डायट: अपर बेली फैट का बढ़ने का सबसे बड़ा कारण खराब डायट होता है। जंक फूड और अधिक वसा वाले आहार को खाने से मेटाबॉलिज्म कम हो जाता है जिससे अपर एब्डॉमिनल फैट बढ़ जाता है। रिफाइन्ड फूड्स, व्हाइट ब्रेड और पास्ता जैसे जंक फूड भी पाचन को कम कर सकते हैं जिससे अपर एब्डॉमिनल फैट आसानी से बढ़ जाता है। इसके अलावा उच्च कैलोरी आहार से भी अपर एब्डॉमिनल फैट बढ़ सकता है। [ये भी पढ़ें: सुरक्षित ढंग से वजन बढ़ाने के लिए अपनाएं ये तरीके]

तनाव:
what are the reasons that cause upper abdomen weight gainमोटापा बढ़ने का एक सबसे बड़ा कारण तनाव भी होता है। तनाव शरीर के कोर्टिसोल को निकालता है जो लिवर को अतिरिक्त शुगर को रिलीज करने के लिए मजबूर करता है जिसकी शरीर को आवश्यकता नहीं होती है और शरीर को मेटाबॉलाइज में सक्षम नहीं होता है। इस अतिरिक्त शूगर के कारण भूख अधिक लगने लगती है, जिससे इंसान अधिक खाने लगता है और वजन बढ़ने लगता है।

स्वास्थ्य समस्याएं: अपर बेली फैट कुछ स्वास्थ्य समस्याओं के कारण भी हो सकता है। डाइजेस्टिव ट्रैक्ट डीजिज, हृदय रोग, “कुशिंग सिंड्रोम” जैसे हार्मोनल इम्बैलेंस इन सभी के कारण अपर एब्डॉमिनल फैट बढ़ सकता है। कुछ स्वास्थ्य समस्याओं के उपचार के लिए ली जाने वाली स्टेरॉयड जैसी कुछ दवाएं भी अपर एब्डॉमिनल फैट बढ़ने की समस्या हो सकती है। [ये भी पढ़ें: क्यों नहीं बढ़ता है हार्डगेनर लोगों का वजन, जानिये कारण और उपाय]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "