कैसे एल्कोहल के सेवन से बढ़ सकता है वजन

Relation between alcohol and weight gain

एल्कोहल का वजन पर सीधा प्रभाव पड़ता है। आमतौर पर यह देखा गया है कि जो लोग शराब पीना शुरू कर देते हैं उनके वजन में आश्चर्यजनक ढंग से इजाफा हो जाता है। ऐसा नहीं है कि शराब में वसा पाई जाती है जिससे वजन बढ़ता है। बल्कि एल्कोहल के सेवन से शरीर में पहले से मौजूद वसा ऊर्जा में तब्दील नहीं हो पाती है और शरीर में हीं जमा रह जाती है। जो कुछ समय बाद चर्बी का रूप ले लेती है। शराब के द्वारा वजन बढ़ाना स्वास्थ्य के लिहाज से वजन बढ़ाने का सही तरीका नहीं है। शराब के द्वारा वजन नकरात्मक तरीके से बढ़ता है। शराब के सेवन से बढ़े वजन से आपके शरीर का कई रोगों से ग्रसित होने का खतरा रहता है। जिनमे ह्रदय रोग और डायबिटीज मुख्य हैं। एल्कोहल का सेवन मोटे लोगों के लिए ज्यादा हानिकारक हो सकता है इसलिए ज्यादा वजन वाले लोगों का शराब से दूर रहना हीं बेहतर होता है। ये भी पढ़ें: कैलोरी से भरपूर ये भोज्य पदार्थ खाएं और जल्दी वजन बढ़ाएं ]

1. भूख का बढ़ना: एल्कोहल के सेवन के बाद आदमी को ज्यादा भूख लगने लगती है। जिसकी वजह से कभी-कभी आदमी हद से ज्यादा खाना खा लेता है। ऐसा तब भी होता है जब आदमी शराब पीते-पीते बहुत ज्यादा स्नैक्स खा लेता है। आमतौर पर ज्यादातर स्नैक्स में वसा और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बहुत ज्यादा होती है जिस वजह से वजन में बहुत जल्दी इजाफा होता है।

2. कैलोरी की ज्यादा मात्रा: एल्कोहल में पोषक तत्व नहीं पाए जाते लेकिन इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। ज्यादा मात्रा में कैलोरी होने की वजह से इसके सेवन से बहुत ही जल्दी वजन बढ़ जाता है। 350 मिली बीयर में 145 कैलोरी होती है वहीं 150 मिली वाइन में 135 कैलोरी पायी जाती है। एल्कोहल के सेवन से शरीर में अतिरिक्त कैलोरी जमा हो जाती है जिससे वजन जल्दी बढ़ता है। [ये भी पढ़ें: बहुत अधिक तनाव में रहते हैं तो बढ़ सकता है आपका वजन जानें कैसे?]

3. शराब पीने के दौरान कोई शारीरिक व्यायाम नहीं होता :
Relation between alcohol and weight gainआमतौर पर लोग शराब टीवी देखते, खाना खाते या किसी बार में घंटो बैठकर ही पीते हैं। इस दौरान शरीर के किसी काम ना करने के कारण कैलोरी युक्त पेय पीने से वजन में बहुत जल्दी बढ़ोत्तरी होती है। यूं तो शराब पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है और शराब का सेवन न हीं किया जाये तो बेहतर है लेकिन अगर फिर भी अगर कोई शराब पीता है तो एक्सरसाइज करना शराब के असर को थोड़ा कम कर सकता है।

4. शराब पीने से फैट बर्न नहीं होता:
relation between alcohol and weight gain लीवर एल्कोहल को एसीटेट (acetate) नामक तत्व में परिवर्तित कर देता है जिसका इस्तेमाल शरीर ऊर्जा के रूप में करता है। अगर खून में एसीटेट की मात्रा बढ़ जाए तो शरीर में ऊर्जा के लिए फैट की जगह इसी का इस्तेमाल होता रहेगा और शरीर में जमा फैट बर्न नही होगा। ऐसा होने से शरीर में फैट जमा होते रहेगा और वजन बढे़गा। [ये भी पढ़ें: हॉस्टल में रहने वाले लोग इन तरीकों से बढ़ाएं वजन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "