Yoga vs Gym: योगा और जिम में से क्या बेहतर है

yoga or gym which one is better

फिट रहने के लिए योगा या जिम में से क्या बेहतर है ये सवाल आपके मन में भी होगा।

Yoga vs Gym: स्वस्थ, सक्रिय और फिट रहने के लिए हर व्यक्ति को अपने रुटीन में कुछ शारीरिक गतिविधियों को शामिल करना चाहिए। इसके लिए कई विकल्प हैं जैसे एक्सरसाइज, स्पोर्ट्स, योगा आदि। हालांकि लोगों के दिमाग में अक्सर ये दुविधा रहती है कि उन्हें इनमें से किसका चयन करना चाहिए। उनके लिए योगा बेहतर विकल्प है या जिम में वर्कआउट करना। हालांकि योगा आजकल काफी लोकप्रिय शारीरिक गतिविधि है क्योंकि इसके अभ्यास से आपको कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं लेकिन जो लोग रेगुलर जिम जाते हैं वो अपने रुटीन में जिम की जगह योगा को शामिल करने के लिए राजी नहीं होते। ऐसे में आप ये जानना जरुर चाहेंगे कि योगा और जिम में से किसका अभ्यास बेहतर है। [ये भी पढ़ें: अपने दैनिक दिनचर्या में योगा को कैसे शामिल करें]

Yoga vs Gym: योगा या जिम- क्या है बेहतर

  • पाचन
  • ताजा रखना
  • वजन कम
  • तनाव
  • परिणाम मिलने में लगने वाला समय

पाचन

yoga or gym which one is better
पाचन को बेहतर करने के लिए योगा काफी लाभकारी है।

अगर पाचन के बारे में बात करें तो योगा करने से आपका पाचन बेहतर होता है क्योंकि यह आपकी नर्व्स को शांत करता है। वहीं जिम करने से आपको अधिक भूख लगती हैं और आप अधिक खाने की आदत का शिकार हो सकते हैं जिससे आपका पाचन बिगड़ सकता है। [ये भी पढ़ें: Morning Habits: सुबह की आदतें जिनसे आपका पाचन बेहतर रहता है]

ताजा रखना
योगा का सही तरीके से अभ्यास करने से आप तरोताजा और उर्जावान महसूस करते हैं। इससे आपको दिनभर के लिए मानसिक शांति मिलती है वहीं जिम में हैवी वर्कआउट करने के बाद आप काफी थक जाते हैं और उर्जा भी कम हो जाती है। जिम के बाद आपके शरीर के कई हिस्सों में दर्द भी हो सकता है।

वजन कम

yoga or gym which one is better
जिम आपको जल्दी वजन कम करने में मदद करता है।

बहुत से लोग वजन कम करने के लिए भी जिम ज्वाइन करते हैं। अगर वजन कम करना आपका लक्ष्य है तो जिम आपको जल्दी वजन कम करने में मदद करता है। वहीं योगा के जरिए आपको वजन कम करने में काफी समय लग सकता है। [ये भी पढ़ें: वजन कम करने के लिए प्रभावी एक्सरसाइज]

तनाव
योगा तनाव को कम करने के लिए लंबे समय से इस्तेमाल किया जाता है। यह आपको मानसिक शांति देकर तनाव और चिंता को कम करता है। इसके अलावा जिम आपको शारीरिक रुप से फिट तो रखता है लेकिन इसमें स्ट्रेस बस्टर गुण नहीं होते। हालांकि जो लोग जिम जाना पसंद करते हैं उनके लिए यह उनके तनाव को कम करने का एक तरीका होता है। [ये भी पढ़ें: इस योगासन की मदद से करें चिंता दूर]

परिणाम मिलने में लगने वाला समय
अगर आप परिणाम की बात करते हैं तो आपको योगा और जिम दोनों से परिणाम मिलने में अलग-अलग समय लगता है। मसल्स को टोन करने और बिल्ड करने के लिए जिम से आपको जल्दी परिणाम मिलते हैं बल्कि योगा परिणाम देने में अधिक समय लेता है।

[जरुर पढ़ें: Physical Strength: बिना जिम जाए शारीरिक मजबूती कैसे बढ़ाएं]

जिम और योगा में इन अंतर के अलावा ये निश्चित करना काफी मुश्किल होगा कि जिम बेहतर है या योगा क्योंकि यह आपके फिटनेस गोल्स पर निर्भर करता है कि आप जिम या योगा का अभ्यास क्यों कर रहे हैं। इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "