महिलाओं को वेट लिफ्टिंग क्यों करनी चाहिए

Read in English
why women should do weight lifting

एक्सरसाइज करने के साथ वजन उठाना भी फायदेमंद होता है। इससे ना सिर्फ शरीर को मजबूती मिलती है बल्कि स्टेमिना भी बढ़ता है। बहुत सी महिलाएं इसलिए वजन नहीं उठाती है क्योंकि उन्हे लगता है कि उनके मसल्स बन जाएंगे जिससे उनका शरीर भारी लगने लगेगा या जब वह वजन उठाना बंद कर देंगी तो उनके शरीर में दोबारा से फैट जमा होने लगेगा। मगर यह गलतधारणा होती है। वजन उठाने से महिलाओं के शरीर पर ऐसा कोई भी प्रभाव नहीं पड़ता है। बल्कि इसके कई फायदे होते हैं। उनका शरीर स्वस्थ रहता है और मजबूत बनता है। योग और ट्रेडमिल पर एक्सरसाइज करना फायदेमंद होता है लेकिन यह काफी नहीं होते हैं आपको वजन उठाने की जरुरत पड़ती है। तो आइए आपको उन कारणों के बारे में बताते हैं जिसकी वजह से महिलाओं को वजन उठाना चाहिए। [ये भी पढ़ें: फर्स्ट इंडोर साइकलिंग क्लास से पहले आपको कौन सी चीजों का जानना आवश्यक है]

प्रभावी रुप से फैट कम होता है: बहुत सी महिलाओं को लगता है कि वेट लिफ्टिंग से सिर्फ मसल्स बनते हैं और कार्डियोवॉस्कुलर एक्सरसाइज और रेसिसटेंस ट्रेनिंग से कैलोरी बर्न होती है। लेकिन ऐसा नहीं है वेट लिफ्टिंग से उस दौरान और बाद में भी फैट बर्न होता है।

कर्व्स बनाता है: जब आप मसल्स बनाती हैं तो इससे बॉडी एक शेप में आने लगती है। एंड्यूरेंस एक्सरसाइज से वजन कम करने में मदद मिलती है तो वजन कम होने पर फैट और मसल्स टिशू दोनों कम होते हैं। जब आपके फैट और मसल्स दोनों कम होते हैं तो कर्व्स दोनों जाने लगते हैं। वेट लिफ्टिंग की मदद से वह कर्व्स दोबारा से बनने लगते हैं। [ये भी पढ़ें: जिम छोड़ने के बाद मसल्स लॉस होने से कैसे रोकें]

नींद में सुधार: स्ट्रेंथ ट्रेनिंग करने से नींद में सुधार होता है। इससे आपको जल्दी नींद आती है और आपकी रात को आंख भी नहीं खुलती है।

हड्डियां स्वस्थ रहती हैं: उम्र के साथ बोन और मसल्स मांस दोनो कम होने लगता है। पीरियड्स बंद हो जाने के बाद महिलाओं को ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या होने की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि शरीर में एस्ट्रोजन का स्त्राव कम हो जाता है। रेसिसटेंस ट्रेनिंग की मदद से बोन मास को दोबारा पाया जा सकता है जिससे ऑस्टियोपोरोसिस होने की संभावना कम हो जाती है।

मजबूती और आत्म-विश्वास को बढ़ाती है: जब भी आप वजन उठाती हैं तो इससे आप मजबूत बनती हैं और अगली बार ज्यादा वजन उठाने की कोशिश करती हैं। जिससे आपको मोटिवेशन मिलता है और आपका आत्म-विश्वास बढ़ता है। [ये भी पढ़ें: वेट लिफ्टिंग को और अधिक प्रभावी कैसे बनाएं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "