तनाव आपके वर्कआउट और फिटनेस रुटीन को कैसे प्रभावित करता है

Read in English
why-stress-is-harmful-for-your-workout-and-fitness-routine

तनाव आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को हानि पहुंचाने का सबसे बड़ा कारण होता है। आजकल तनाव के दुष्प्रभाव के बारे में सब लोगों को जागरुक रहना बहुत जरुरी हो गया है। यह हमारे खाने-पीने, सोने और सोचने तक की आदत को प्रभावित करता है। आमतौर पर बहुत लोग तनाव से पैदा नकारात्मक ऊर्जा को कम करने के लिए एक्सरसाइज करते हैं। लेकिन तनाव आपके वर्कआउट रुटीन के लिए भी हानिकारक होता है। आइए जानते हैं कि तनाव आपकी फिटनेस और वर्कआउट रुटीन पर कैसे हानिकारक प्रभाव डालता है। [ये भी पढ़ें: सुपरसेट वर्कआउट की मदद से पूरे शरीर को मजबूत बनाएं]

1. यह आपके ध्यान को भंग करता है: कुछ एक्सरसाइज ऐसी होती है जिसमें आपको पूरा ध्यान लगाने की जरुरत होती है। अगर आप पूरा ध्यान नहीं लगाते तो एक्सरसाइज करते समय आपको चोट लगने का डर रहता है। जब आप तनाव में होते हैं तो आपके दिमाग में नकारात्मक विचार आने लगते हैं तो आपको ध्यान केंद्रित करना मुश्किल हो जाता है। इसलिए तनाव आपके लिए हानिकारक हो सकता है।

2. मोटर कॉर्डिनेशन को भंग करता है: एक अध्ययन के अनुसार तनाव आपके मोटर कॉर्डिनेशन के लिए काफी हानिकारक होता है। साधारण शब्दों में जब आप एक्सरसाइज करते हैं तो आपके शरीर की मसल्स का एक सही सामंजस्य बना रहना जरुरी है, जिसे मोटर कॉर्डिनेशन कहते हैं। तनाव आपके ब्रेन फंक्शन को प्रभावित करता है जिससे मोटर कॉर्डिनेशन बिगड़ जाता है और आपके लिए वर्कआउट को मुश्किल बना देता है। [ये भी पढ़ें: राशि के अनुसार आपको कौन-सी एक्सरसाइज करनी चाहिए]

3. चोट से उबरने की प्रक्रिया को धीमा बना देता है: तनाव आपके शरीर पर भी हावी होता है। वर्कआउट के दौरान चोट लगना स्वाभाविक होता है लेकिन जब आप तनाव में होते हैं आपके प्राकृतिक रुप से ठीक होने की गति धीमी हो जाती है। एक अध्ययन के अनुसार यह पाया गया है कि तनाव आपके चोट से उबरने की प्रक्रिया को धीमा बना देता है।

4. तनाव के कारण वजन कम करने में परेशानी होती है: अत्यधिक तनाव से ग्रस्त लोग अक्सर वजन बढ़ने और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करते हैं। तनाव शरीर में कोर्टिसोल के लेवल को बढ़ाता है, जिसके परिणाम स्वरुप हमारा शरीर फैट को संचित करने लगता है। एक अध्ययन के अनुसार पाया गया है कि अगर कोई व्यक्ति तनाव से ग्रस्त है तो इससे उसका वजन कम करना मुश्किल हो जाता है।

5. प्रेरणा को खत्म कर देता है: तनाव फिटनेस के लिए आवश्यक मोटिवेशन को कम करता है। एक अध्ययन के अनुसार तनाव के कारण आपकी वर्कआउट करने की इच्छा कम होने लगती है। जब आप फिट रहने की ठानते हैं तो इसके लिए मोटीवेट रहना सबसे ज्यादा जरुरी होता है। तनाव से आपके मोटिवेशन में कमी आती है और आपका वजन बढ़ जाता है । [ये भी पढ़ें: रोजाना प्लैंक करने से आपके शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "