नाइट शिफ्ट के दौरान कब करें वर्कआउट

when-to-workout-during-night-working-shift

अपारंपारिक(जैसे-लेट नाइट शिफ्ट) समय सीमा में काम करना आपके सोने, खाने और एक्सरसाइज के रुटीन को पूरी तरह से प्रभावित करता है। अगर आप नाइट शिफ्ट यानि रात के दौरान काम करते हैं तो आपको वर्कआउट के लिए भी ऐसा समय चुनना पड़ता है जो आपकी दिनचर्या के लिए सही हो। नाइट शिफ्ट के कारण आपको दिन के समय नींद भी पूरी करनी होती है लेकिन रोजाना वर्कआउट करना भी जरुरी है। ऐसे में आपको कौन सा समय चुनना चाहिए जो आपके लिए उपयोगी हो और कार्य करने के लिए आवश्यक ऊर्जा भी मिलती है। आइए जानते हैं कि नाइट शिफ्ट के दौरान कैसे करें सही वर्कआउट के समय का चयन। [ये भी पढ़ें: क्वाड्स की मजबूती के लिए शुरुआत में कौन सी एक्सरसाइज करनी चाहिए]

1. शिफ्ट शुरु होने से पहले (शाम के समय): बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हें देर रात तक जागने की आदत नहीं होती। ऐसे लोग जब नाइट शिफ्ट पर ऑफिस काम करने जाते हैं तो ये बहुत सुस्त महसूस करते हैं और रात को बहुत नींद आती है। ऐसे में खुद को ऊर्जावान बनाएं रखने के लिए कॉफी आदि का सेवन करते हैं लेकिन अधिक मात्रा में कैफीन का सेवन स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर डालता है। ऐसे में काम करने से पहले ईवनिंग वर्कआउट यानि शाम के समय का वर्कआउट आपके लिए काफी फायदेमंद होता है। इसलिए अगर आप दिन में सोते हैं तो शाम को नींद खुलने के बाद वर्कआउट करें। शाम को 6 से 8 बजे की बीच आप वर्कआउट कर सकते हैं, ऐसा करने से आपको भरपूर ऊर्जा मिलती है और साथ ही काम के दौरान होने वाले तनाव को भी आप खत्म कर सकते हैं। डिनर करने और वर्कआउट के बीच एक घंटे का समय अन्तराल जरुर रखें।

2. सुबह-सवेरे: अगर आपकी शिफ्ट 6 या 7 बजे के आसपास खत्म होती है तो सुबह का समय भी आपके लिए वर्कआउट के लिए सही हो सकता है। कुछ लोगों को दिन में नींद नहीं आती उनके लिए भी सुबह का समय वर्कआउट करने का सबसे सही समय होता है। सुबह के समय वर्कआउट करने से आपको अच्छी थकान होती है जिससे आपको भरपूर नींद आती है और नाइट शिफ्ट के दौरान नींद पूरी ना होने की परेशानी पैदा नहीं होती। साथ ही ये रातभर के काम से हुए तनाव को भी खत्म कर देती है। [ये भी पढ़ें: बड़े बाइसेप्स और ट्राइसेप्स के लिए अपनाएं सुपरसेट वर्कआउट]

3. क्या-क्या कर सकते हैं आप:
एनर्जी को बूस्ट करने के लिए और तनाव को कम करने के लिए आप ऐसी कई चीजें कर सकते हैं जो आपके लिए भी रुचिकर हों।

  • आप एक्सरसाइज से पहले 30 मिनट तक कार्डियोवेस्कुलर एक्टिविटीज जैसे- स्वीमिंग, बाइक चलाना, रुचिकर खेल जैसे फुटबॉल, बैडमिंटन आदि खेल सकते हैं।

4. काम के दौरान: नाइट शिफ्ट के बाद घर आकर भी अगर आपको वर्कआउट करने का समय नहीं मिलता है तो कोशिश करें कि अपने रोजाना के कामों के दौरान ही एक्सरसाइज करें।

  • लिफ्ट की बजाय आप सीढ़ीयों का इस्तेमाल करें।
  • घर में भारी समानों को शिफ्ट कर के आप वेट लिफ्टिंग कर सकते हैं।
  • पुश-अप, सीट-अप आदि ऐसी एक्सरसाइज है जिनको आप अपने बेडरुम में ही कर सकते हैं इसके लिए आपको कहीं जाने की भी जरुरत नहीं होती।

सुबह और शाम दोनों समय ही वर्कआउट करना सेहतमंद होता है लेकिन यह आप पर निर्भर है कि आपके लिए कौन सा समय सही है। यदि आप खुद नहीं जानते तो एक सप्ताह सुबह और एक सप्ताह शाम के समय वर्कआउट करें और फिर जिस समय आपको ज्यादा सही लगें आप उस समय वर्कआउट जारी रख सकते हैं।[ये भी पढ़ें: मसल्स बनाने और फैट बर्न करने के लिए बैटल रोप वर्कआउट कैसे करें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "