परिस्थितियां जिनमें वर्कआउट छोड़ना उचित होता है

when it’s ok to skip your workout

कभी-कभी आप वर्कआउट नहीं करते हैं। जिसके पीछे कई कारण होते हैं कभी आपका मन नहीं करता है या कुछ और। ऐसा एक्सरसाइज करते हुए बोर हो जाने की वजह से भी होता है लेकिन फिट रहने के लिए एक्सरसाइज करना भी जरुरी होता है। आप कुछ परिस्थितियों में वर्कआउट सेशन को छोड़ सकते हैं, इसका मतलब यह नहीं कि आप रोज अपना वर्कआउट सेशन छोड़ने लगें। अगर आपके शरीर को वास्तव में आराम की जरुरत है तो वर्कआउट सेशन छोड़ने में कोई बुराई नहीं है। तो आइए आपको उन परिस्थितियो के बारे में बताते हैं जिनमें वर्कआउट छोड़ना गलत नहीं है। [ये भी पढ़ें: पेय पदार्थ जिनका सेवन वर्कआउट के बाद नहीं करना चाहिए]

मांसपेशियों में दर्द: अगर आप पहली बार कोई एक्सरसाइज करते हैं तो उसके बाद शरीर में दर्द होना सामान्य होता है। अगर यह दर्द बहुत ज्यादा बढ़ जाता है तो यह चोट लगने के संकेत हो सकते हैं। दर्द होने के बावजूद अगर आप एक्सरसाइज करते हैं तो यह चोट को बढ़ा सकते हैं इसलिए जब तक दर्द ठीक ना हो जाए एक्सरसाइज ना करें।

नींद पूरी ना होने पर: कभी-कभी नींद पूरी ना होना कोई परेशानी वाली बात नहीं होती है लेकिन अगर आप रोजाना सिर्फ 4-5 घंटे सोते हैं तो आपके शरीर को थकावट दूर करने के लिए पूरी नींद लेने की जरुरत होती है। ताकि अगले दिन जब आप एक्सरसाइज करें तो आपको ऊर्जावान महसूस हो। [ये भी पढ़ें: प्रोटीन का सेवन कब करना फायदेमंद होता है]

बीमार हों: अगर आप गर्दन से ऊपर जैसे नाक, गले में परेशानी है तो वर्कआउट कर सकते हैं लेकिन अगर आपको पेट, फेफड़े से संबंधित समस्या है एक्सरसाइज करने से बेहतर है कि आप आराम करें। जब आप अस्वस्थ महसूस कर रहे हो तो उस दौरान वर्कआउट ना ही करें क्योंकि उस दौरान आपके शरीर को बीमारी से लड़ने के लिए ऊर्जा की जरुरत होती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान: प्रेग्नेंसी के दौरान खुद को स्वस्थ रखना बेहद जरुरी होता है। इस दौरान एक्सरसाइज करना अच्छा होता है लेकिन अगर आपको थकावट महसूस हो रही है तो एक्सरसाइज ना ही करना बेहतर होता है। अपने पैरों को आराम पहुंचाने के लिए आप एरोबिक्स कर सकते हैं।

चोट लगने पर: अगर आपको मांसपेशियों में या शरीर के किसी और हिस्से में चोट लग गई है तो जिम ना जाना आपके लिए फायदेमंद होता है। उस दिन आप आराम कर सकते हैं। जब तक चोट भर ना जाए तब तक एक्सरसाइज ना करें यह आपके दर्द और चोट को बढ़ा सकते हैं। [ये भी पढ़ें: वर्कआउट करने के बाद कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन होता है हानिकारक]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "