वेट लिफ्टिंग को और अधिक प्रभावी कैसे बनाएं

Read in English
Ways to Make Lifting Weights More Effective

एक्सरसाइज आपके शरीर को फिट और स्वस्थ रखने के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। लोग अपने फिटनेस लक्ष्यों के अनुसार एक्सरसाइज का अभ्यास करते हैं। फिटनेस लक्ष्य हर व्यक्ति के अलग-अलग होते हैं। कोई सिक्स पैक एब्स प्राप्त करना चाहता है, तो कुछ बड़े बाइसप्स चाहते हैं। जबकि अन्य लीन मसल्स हासिल करना चाहते हैं। एक्सरसाइज सभी फिटनेस लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करता है। इसके अलावा, एक्सरसाइज में भिन्नता इसे और अधिक प्रभावी बनाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसी तरह, यदि आप वर्कआउट के अभ्यास का एक महिना पूरा कर चुके होते हैं, तो फिर इसे अगले लेवल पर ले जा सकते हैं। कुछ विधियां होती हैं जो आपको अपने वेट लिफ्टिंग को और अधिक प्रभावी बनाने में मदद करती हैं और इसे एक स्तर ऊपर ले जाती हैं। यदि आप प्रभावी रूप से वेट लिफ्ट करते हैं तो आप जल्द से जल्द अपना वांछित फिटनेस लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: चीजें जिसे आपको जिम जानें से पहले करनी चाहिए]

ट्रे़डिशनल मशीन को छोड़ दें:
ट्रेडिशनल मशीन आपके उद्देश्य को पाने में मदद करता है। वे केबल के साथ कार्यात्मक हैं, जो आपकी छोटी मांसपेशियों को बेहतर बनाने में मदद करता है। लेकिन अगर आप अगले स्तर पर जाना चाहते हैं, तो फ्री वेट उठाना शुरू करें। इसके अलावा, आप रेसिंस्टेंस बैंड को भी शामिल कर सकते हैं।

ताकत और कार्डियो को मिलाएं:
एक साथ किए जाने पर ताकत और कार्डियो बहुत प्रभावी होते हैं। यदि आप अपने एक्सरसाइज के बीच कार्डियो का अभ्यास करते हैं, तो यह ना केवल आपके दिल की दर को बढ़ाता है बल्कि चयापचय को भी बढ़ावा देता है। इसके अलावा, यह आपकी मांसपेशियों को ठीक करने की अनुमति भी देता है। बेहतर परिणाम के लिए, जब आप भार उठाते हैं तो कूदने के रस्सी से 20 सेकंड का प्रयास करें।  [ये भी पढ़ें: फिटनेस से जुड़े मिथक जिन पर लोग विश्वास करते हैं]

गति के साथ खेलें:
वेटलिफ्टिंग में सुधार करने का एक और शानदार तरीका अपनी गति के साथ खेलना होता है। वेटलिफ्टिंग में सुधार करना बहुत फायदेमंद होता है।

स्थिरता लाता है:
बैलेंसिंस ऐक्ट आपके शरीर को पर्याप्त लाभ प्रदान कर सकता है। यह अधिक मांसपेशियों को विशेष रूप से कोर मांसपेशियों को उत्तेजित करता है। बेहतर परिणामों के लिए जिम में एक स्थिरता गेंद से प्रयास करें। यह आपकी लिफ्टिंग को और अधिक प्रभावी बनाता है।

अपनी मुद्रा पकड़ें:
आइसोमेट्रिक होल्ड तब होता है जब आप मांसपेशियों को अनुबंध करते हैं और इसे एक फ्लेक्स स्थिति में रखते हैं तो यह मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है। बेहतर परिणाम के लिए, रो एक्सरसाइज का अभ्यास करते समय अपनी बांह को 1-3 सेकेंड तक होल्ड कर के रखें।  [ये भी पढ़ें: शरीर के लिए रेस्ट-डे क्यों लेना आवश्यक है]

 

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "