रुकी हुई मसल्स ग्रोथ को बढ़ाने के लिए कुछ असरदार ट्रिक्स

useful tricks to trigger muscle growth

बॉडीबिल्डिंग करते हुए बहुत से लोगों को ये शिकायत होती है कि संपूर्ण आहार और वर्कआउट करने के बावजूद एक समय के बाद उनकी मसल्स ग्रोथ करना बंद कर देती है। दरअसल एक जैसा वर्कआउट करने से आपकी मसल्स एक हद तक ही बढ़ पाती है और उससे ज्यादा मसल्स ग्रोथ के लिए आपको अपने वर्कआउट में कुछ नया करने की जरुरत होती है। जिससे मसल्स पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है। आइए ऐसी ही कुछ ट्रिक्स के बारे में जानते हैं, जो आपकी मसल्स पर अतिरिक्त दबाव डालती हैं और उनकी रुकी हुई ग्रोथ को बढ़ाती हैं। [ये भी पढ़ें: मसल्स बनाते वक्त इन नियमों का पालन करना है जरुरी]

1.डिलोड: कुछ लोग मसल्स बढ़ाने के लिए भारी से भारी वेट से ज्यादा समय तक एक्सरसाइज करने लगते हैं। जिससे कि आपकी मसल्स को रिकवर करने का समय नहीं मिल पाता और उनका विकास होना बंद हो जाता है। डिलोड का मतलब अपने वर्कआउट करने की अवधि को घटाना या कुछ दिनों के लिए थोड़े हल्के वेट से एक्सरसाइज करना होता है। इस तरीके से मसल्स को रिकवर करने का समय मिल जाता है और वह फिर से विकास करना शुरू कर देती हैं।

2.नेगेटिव रैपिटीशन: नेगेटिव रैपिटीशन करने से आपकी मसल्स पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है। यह आपकी मसल्स की सारी ऊर्जा को इस्तेमाल करने में मदद करता है, जिससे मसल्स की ग्रोथ और ताकत बढ़ती है। इसे करने के लिए अपनी एक्सरसाइज के पहले सेट में भारी वेट का इस्तेमाल करें, फिर हर सेट के साथ अपने वेट को कम करते जाएं, जबतक कि आपकी मसल्स बिल्कुल थक नहीं जाती। साथ ही ध्यान रखें कि सुरक्षा की दृष्टि से स्क्वाट या डेडलिफ्ट जैसी कुछ एक्सरसाइज में नेगेटिव रैपिटीशन करना आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। [ये भी पढ़ें: वर्कआउट रूटीन में ब्रेक लेना क्यों जरुरी है]

3.ओवर ईटिंग: आपको कभी-कभी ओवर ईटिंग करनी चाहिए। क्योंकि भारी वर्कआउट के बाद कार्बोहाइड्रेट्स की ज्यादा मात्रा सेवन करने से आपकी मसल्स ग्रोथ बढ़ती है। ओवर ईटिंग करने से आपकी मसल्स को जरुरी एनाबोलिक वातावरण मिलता है, जिससे लेप्टिन हार्मोन बढ़ता है। जो आपकी मसल्स ग्रोथ को बढ़ाता है। [ये भी पढ़ें: एक्सरसाइज जिन्हें करके आप अपना समय बर्बाद कर रहे हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "