मिनी रेजिस्टेंस बैंड के साथ किए जाने वाले एक्सरसाइज

these exercise gives better result with mini resistance band

photo credit: atletai.lt

एक जैसे एक्सरसाइज करने से आपको बोरियत महसूस होने लगती है और कुछ समय बाद आपकी मसल्स की ग्रोथ भी रुक जाती है। वर्कआउट में दिलचस्पी बनाए रखने के लिए और बेहतर परिणाम पाने के लिए आपको एक्सरसाइज के साथ कुछ नया करते रहना चाहिए। मिनी रेजिस्टेंस बैंड का इस्तेमाल करने से आपको अपने वर्कआउट में दिलचस्पी बढ़ने लगेगी और साथ ही आपकी मसल्स पर अतिरिक्त दबाव पड़ने से उनकी ग्रोथ पहले से ज्यादा होने लगती है। आइए जानते हैं कि मिनी रेजिस्टेंस बैंड के साथ कौन सी एक्सरसाइज कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: जरुरत से ज्यादा खाना से आपके शरीर पर पड़ने पाने दुष्प्रभाव]

1.ग्लूट ब्रिज मार्च:

ग्लूट ब्रिज मार्च आपके शरीर के निचले हिस्से को मजबूत बनाता है और आपकी कोर मसल्स और कूल्हों की मसल्स को खासकर प्रभावित करता है। इसे करने के लिए जमीन पर कमर के बल लेट जाएं और मिनी रेजिस्टेंस बैंड को दोनों पैरों के तलवों पर टिका लें। अब अपने एक पैर को पेट की तरफ लेकर आएं। फिर इसे पिछले वाली पोजीशन में लाएं और दूसरे पैर को पेट की तरफ लाएं।

2.बाइसिकल क्रंच:

बाइसिकल क्रंच आपके एब्डोमिनल मसल्स के लिए बहुत लाभदायक है। लेकिन अगर आप इसे करके बोरियत महसूस करने लगे हैं, तो आप इसमें रेजिस्टेंस बैंड की मदद से बोरियत दूर कर सकते हैं। इसे करने के लिए अपने पैरों में रेजिस्टेंस बैंड लगाएं और बाइसिकल क्रंच एक्सरसाइज करें। [ये भी पढ़ें: हूला हूप्स एक्सरसाइज की मदद से करें खुद को फिट]

3.स्क्वाट विद लेग लिफ्ट:

स्क्वाट करने से आपकी थाई मसल्स और कूल्हों की मसल्स में मजबूती और लचीलापन आता है। साथ ही इसमें लेग लिफ्ट करने से आपकी कूल्हों की मसल्स पर अतिरिक्त चर्बी नहीं चढ़ती। इसके लिए बस स्क्वाट करते हुए अपनी एड़ियों के ऊपर मिनी रेजिस्टेंस बैंड को लगाएं।

4.पुश-अप वाल्क:

पुश-अप आपके शरीर के ऊपरी हिस्से को मजबूती देता है। ये एक्सरसाइज आपकी कमर, कंधे, छाती की पेक्स मसल्स और फोरआर्म्स पर गहरा प्रभाव छोड़ता है और इसमें हैंड वाल्क करने से आपके फोरार्म्स और छाती पर दबाव बढ़ता है। इसे करने के लिए अपने हाथों में रेजिस्टेंस बैंड लगा सकते हैं, जिससे इस एक्सरसाइज का असर बढ़ जाता है। [ये भी पढ़ें: एब्स ट्रेनिंग से जुड़े फैक्ट जो आपको जानने चाहिए]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "