Stretching tips: पुरूषों को कौन से स्ट्रेचेज के बारे में पता होना चाहिए

Read in English
What Happens If You Stretch Every Day

Stretching tips: स्ट्रेचिंग के बारे जरूर जानें

Stretching tips: वर्कआउट से पहले और बाद में स्ट्रेचिंग बहुत महत्वपूर्ण होता है। यह शरीर के लचीलेपन को बढ़ाता है और वर्कआउट के कारण होने वाली चोटों से भी बचाता है। यदि आप नियमित रूप से स्ट्रेचिंग करते हैं तो यह कई और लाभ प्रदान करते हैं और शरीर के शारीरिक क्रिया को सही तरीके से करने में मदद करते हैं। इसके अलावा, यह रक्त प्रवाह को भी बढ़ाता है और एक्सरसाइज के लिए शरीर को तैयार करता है। इसके अलावा, कुछ ऐसे स्ट्रेचिंग हैं जिसके बारे में प्रत्येक व्यक्ति को अवगत होना चाहिए। ये स्ट्रेचिंग कई दर्द से राहत प्रदान करते हैं। पुरुषों को इन स्ट्रेचिंग से अवगत होना चाहिए। [ये भी पढ़ें: Benefits of Stretching: स्ट्रेचिंग से होने वाले स्वास्थ्य लाभ]

Stretching tips: स्ट्रेचेज जिसके बारे में हर पुरूष को जानकारी होनी चाहिए

  • बैक एंड चेस्ट
  • एकिंग हैमस्ट्रिंग स्ट्रेच
  • स्ट्रेंड लोअर बैक स्ट्रेच
  • एब्डॉमिनल फ्लेक्स
  • बैक ओपनर

बैक एंड चेस्ट:
यह स्ट्रेच छाती और पीठ के विकास के लिए फायदेमंद है। इसके अलावा, यह पीठ और छाती से दर्द को भी राहत देता है। इस स्ट्रेच का अभ्यास करने के लिए, सामान्य रूप से खड़े हो जाएं और अपनी बाहों को अपनी तरफ बढ़ाएं और अपनी छाती उठाएं।

एकिंग हैमस्ट्रिंग स्ट्रेच:
हैमस्ट्रिंग के दर्द और लचीलापन से छुटकारा पाने के लिए यह स्ट्रेच काफी फायदेमंद है। इस स्ट्रेच का अभ्यास करने के लिए, अपने पैरों को दो फीट अलग कर लें। फिर अपने घुटनों को झुकाएं और अपने एड़ियों को पकड़ें। इसके बाद, यह धीरे-धीरे अपने पैरों को सीधा करने की कोशिश करें।

स्ट्रेंड लोअर बैक स्ट्रेच:
स्ट्रेंड लोअर बैक स्ट्रेच ऊपरी शरीर में सुधार करता है। इस स्ट्रेच का अभ्यास करने के लिए, बाएं पैर को आगे कर के खड़े हो जाएं। अपने कूल्हे को दबाकर और सीने को ऊपर की ओर बढ़ते समय अपनी मुट्ठी को पीछे की ओर दबाएं। फिर इस प्रक्रिया को दूसरे पैर से भी दोहराएं।

एब्डॉमिनल फ्लेक्स:
इस स्ट्रेच का अभ्यास करने के लिए, अपने हाथों से फर्श पर लेट जाएं। अब अपनी बाहों को दबाएं और ऊपर उठाएं। सुनिश्चित करें, आपके पैरों और कूल्हों जमीन पर फ्लैट हों।

बैक ओपनर:
यह स्ट्रेच पीठ के लिए फायदेमंद होता है। इस स्ट्रेच का अभ्यास करने के लिए, अपनी अंगुलियों को पसाएं। अब अपनी बाहों को अपने सामने लाएं और हथेली को घुमाएं। अपनी बाहों को बढ़ाते समय अपनी ठुड्डी को छाती तक लाएं।  [ये भी पढ़ें: स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज जिन्हें वर्कआउट से पहले नहीं करना चाहिए]

हर आदमी को इन स्ट्रेचेज से अवगत होना चाहिए। ये स्ट्रेच दर्द से छुटकारा पाने और शरीर में रक्त प्रवाह में वृद्धि करने में मदद करते हैं।

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "