फिटनेस प्लान को फॉलो करने के फायदे

reasons why you must follow a fitness plan

फिट रहना आपको शारीरिक और मानसिक तौर पर स्वस्थ रखने में मददगार होता है। एक्सरसाइज करने से स्टेमिना तो बढ़ता ही है साथ ही यह इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में उपयोगी होती है। फिटनेस प्लान को फॉलो करने पर एक्सरसाइज करने और हेल्दी डाइट का सेवन करने से आप कई बीमारियों से ग्रसित होने से बचते हैं। फिटनेस प्लान फॉलो करने से आप शारीरिक रुप से स्वस्थ रहते हैं जो आपको ऊर्जावान बनाए रखने में मदद करता है। आइए जानते हैं कि फिटनेस प्लान को फॉलो करना आपके लिए क्यों उपयोगी होता है।[ये भी पढ़ें: वर्कआउट जिससे बैक और बाइसेप्स मसल्स एक साथ मस्कुलर बनती है]

रक्त संचरण को सही रखता है: जब आप एक्सरसाइज करते-करते थक जाते हैं तो आपके शरीर को अधिक खून की जरुरत होती है। यहीं कारण है कि इससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है। इससे रक्त शिराएं चौड़ी हो जाती है। फिटनेस प्लान फॉलो करने से शरीर में आसानी से रक्त संचरण होता है,दिल की बीमारियों और हाई ब्लड प्रेशर का खतरा कम हो जाता है।

डायबिटीज के खतरे को कम करता है: रोजाना एक्सरसाइज करने से ब्लड शुगर का स्तर सही बना रहता है। क्योंकिं बढ़ती उम्र के साथ डायबिटीज होने की संभावना बढ़ जाती है। जब आप फिटनेस प्लान फॉलो करने लगते हैं तो इससे एक्सरसाइज करने के साथ सही डाइट का सेवन करके डायबिटीज के खतरे को कम किया जा सकता है।[ये भी पढ़ें: डंबल वर्कआउट जो कार्डियो से बेहतर परिणाम देता है]

वजन नियंत्रित रखता है: मोटापा अपने आप में एक बीमारी है और साथ ही यह कई अन्य बीमारियों को भी न्यौता देता है। मोटापा कम करने के लिए और वजन को सही बनाए रखने के लिए आपको फिटनेस प्लान फॉलो करना फायदेमंद होता है।

हृदय रोग के खतरे को कम करता है: वर्क- बैलेंस ना होने, काम का अत्यधिक तनाव होने और स्वास्थ्य का ध्यान ना रखने के कारण दिल की बीमारी होने की संभावना बढ़ जाती है।बैड कोलेस्ट्रॉल(एलडीएल) का स्तर बढ़ने के कारण दिल की बीमारियां होने का खतरा रहता है। लेकिन फिटनेस प्लान फॉलो करने से एलडीएल और एचडीएल का बैलेंस बना रहता है। जिससे हृदय की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

ऑस्टियोपोरोसिस की संभावना कम करता है: ऑस्टियोपोरोसिस एक बीमारी है जिसमें हड्डियां कमजोर हो जाती है। जिससे इनके टूटने की संभावना बढ़ने लगती है। रोजाना एक्सरसाइज करने और सही डाइट का सेवन करके से हड्डियां मजबूत और स्वस्थ बनाया जा सकता है। [ये भी पढ़ें: डेडलिफ्ट एक्सरसाइज को डंबल की मदद से कैसे करें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "