नेचुरल सप्लीमेंट जो मसल्स रिपेयर करने में मदद करते हैं

natural supplement for muscles repairment after workout

वर्कआउट के बाद क्षतिग्रस्त हुई मसल्स को रिपेयर करने के लिए लोग केमिकल वाले सप्लीमेंट का सेवन करने लगते हैं। जिससे मसल्स की खोई ताकत और मजबूती वापस आ जाती है और उनका विकास बढ़ता है। मगर इन सप्लीमेंट्स के दुष्प्रभाव भी होते हैं। बाजारी सप्लीमेंट पर पैसा खर्च करने और दुष्प्रभावों से बचने के लिए नेचुरल सप्लीमेंट का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। प्रकृति में ऐसी कई जड़ी-बूटियां हैं, जो मसल्स की खोई ताकत और मजबूती को बढ़ाती है और उनका विकास करने में मदद करती हैं। आइये जानते हैं कि किन नेचुरल सप्लीमेंट का इस्तेमाल करके मसल्स को जल्दी रिपेयर किया जा सकता है। [ये भी पढ़ें: आर्म्स को कैसे बड़ा और मस्कुलर बनाएं]

कुरकुमिन:
natural supplement for muscles repairment after workout कुरकुमिन हल्दी में पाया जाने वाला तत्व है। इसमें इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो वर्कआउट के बाद मसल्स में आई सूजन को कम करता है। इसके साथ ही इसका सेवन जोड़ों के दर्द के लिए भी लाभकारी होता है। इसका सेवन करने के लिए 5-10 ग्राम हल्दी को गर्म दूध में मिलाकर दिन में एक बार जरुर सेवन करें।

अश्वगंधा: अश्वगंधा एक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जो मानसिक और शारीरिक तनाव को दूर करने में मदद करती है। अश्वगंधा के सेवन से गहरी और पर्याप्त नींद आती है, जिससे मसल्स से तनाव दूर होता है और आप अगली सुबह फ्रेश उठते हैं। अश्वगंधा के सेवन से शरीर में स्ट्रेस हॉर्मोन कॉर्टिसोल का उत्पादन कम होता है। इसके लिए आप बाजार में मौजूद अश्वगंधा गोलियों का सेवन कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: मसल्स बिल्डिंग के लिए गाय या भैंस किसका दूध पीना चाहिए]

जिंक: जिंक का सेवन करने से टेस्टोस्टेरोन और रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार होता है। जिससे मसल्स का विकास बढ़ता है और आप जल्दी बीमार भी नहीं पड़ते हैं। जिंक की पर्याप्त मात्रा प्राप्त करने के लिए काजू, योगर्ट, मशरुम और पालक का सेवन कर सकते हैं।

मैग्नीशियम:
natural supplement for muscles repairment after workout मैग्नीशियम नींद को बेहतर बनाता है, जिससे शरीर और दिमाग को पर्याप्त आराम मिल पाता है। साथ ही मसल्स को भी आराम मिल पाता है और उनका विकास होता है। इसकी मात्रा को ग्रहण करने के लिए एवोकाडो, डार्क चॉकलेट, केला, अंजीर, बादाम आदि का सेवन करें।

हाथ जोड़: हाथ जोड़ में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और यह हड्डियों को मजबूत भी बनाने में मदद करता है। इसके सेवन से जोड़ों का दर्द भी दूर होता है, जिससे आप बिना किसी दर्द के अपना वर्कआउट नियमित रख सकते हैं। इसके लिए 2-5 ग्राम हाथ जोड़ के पाउडर को गुनगुने पानी के साथ दिन में एक बार सेवन करें। [ये भी पढ़ें: फिटनेस प्लान को फॉलो करने के फायदे]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "