Weightlifting tricks: वेट लिफ्टिंग के बेहतर फायदों के लिए ट्रिक्स

Read in English
Benefits of Lifting Weights

Weightlifting tricks: वेट लिफ्टिंग के ट्रिक्स को जानें

Weightlifting tricks: वेट लिफ्टिंग सर्वोत्तम अभ्यासों में से एक है। यह कई लाभ प्रदान करता है क्योंकि यह एक समय में कई मांसपेशियों को संलग्न करता है। वेट लिफ्टिंग ना केवल शारीरिक फिटनेस में सुधार करता है बल्कि वजन घटाने, शरीर की ताकत और धैर्य बढ़ाने में भी मदद करता है। एक्सरसाइज के लाभों को प्राप्त करने के लिए उचित तरीके से वेट लिफ्टिंग करना सबसे महत्वपूर्ण होता है। वर्कआउट के गलत निष्पादन से चोट लगने का खतरा बढ़ सकता है। इसके अलावा, कुछ चीजें हैं, जो वेटलिफ्टिंग से अधिकतम लाभ प्राप्त करने में मदद करती है। आपको इन चीजों से अवगत होना चाहिए, ताकि आप परिणाम प्राप्त कर सकें और जल्द से जल्द अपने फिटनेस लक्ष्यों को प्राप्त कर सकें। [ये भी पढ़ें: Weight training exercise: शुरुआत में कौन से वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज करें]

Weightlifting tricks: वेट लिफ्टिंग के फायदों के बारे में जरूर जानना चाहिए

  • एसेंट्रिक ट्रेनिंग पर ध्यान दें
  • लिफ्ट करते वक्त 1 सेकंड का पॉज लें
  • यूनिलैट्रल
  • कॉन्ट्रालैट्रल वर्कआउट करें
  • फेसिया पर ध्यान दें

एसेंट्रिक ट्रेनिंग पर ध्यान दें:

Stretch With Weights Weightlifting tricks
Weightlifting tricks: चीजें जो आपको वेट लिफ्टिंग के बारे में पता होना चाहिए

कई लोग एसेंट्रिक ट्रेनिंग का अभ्यास नहीं करते हैं। वो शुरूआती की अवस्था में वजन उठाते हैं और अपने रेप्स को समाप्त करते हैं। ये मोमेंटम को अनुमति देते हैं लेकिन मसल्स टेंशन को नहीं। एसेंट्रिक मोशन मांसपेशियों के विकास में मदद करते हैं।

लिफ्ट करते वक्त 1 सेकंड का पॉज लें:
वेट लिफ्ट करते वक्त 1 सेकंड का पॉज लेना आवश्यक होता है। ऐसा करने से स्थिरता आती है और वजन भी नियंत्रित रहता है।

यूनिलैट्रल:
यूनिलैट्रल मसल्स को स्थिरता प्रदान करते हैं। यह वेट लिफ्टिंग को सेफ रखता है ताकि किसी प्रकार की चोट ना लगे। यह शरीर में असंतुलन को बराबर करता है जो दोनों अंगों को एक साथ काम करते समय नहीं किया जा सकता है।

कॉन्ट्रालैट्रल वर्कआउट करें:
वर्कआउट में और चुनौती जोड़ने से स्थिरता में सुधार होता है और पूरे शरीर को मजबूत किया जाता है। बेहतर परिणामों के लिए क्रॉस-बॉडी मूवमेंट को शामिल किया गया है। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपका वेटलिफ्टिंग रूटीन गलत है]

फेसिया पर ध्यान दें:
फेसिया डेंस नेटवर्क टिशू है जो मांसपेशियों और हड्डियों से घिरा हुआ होता है। टाइट और डिहाईड्रेटेड फेसिया खराब प्रदर्शन के रूप में परिणाम देता है और चोट लगने की संभावना को भी बढ़ाता है। बेहतर परिणामों के लिए, डाइनामिक स्ट्रेच से फेसिया को बढ़ाएं।

[जरूर पढ़ें: Body Building Exercises: एक्सरसाइज जिनसे एक वर्कआउट के बाद ही परिणाम मिलने लगता है]

फिट और हेल्दी रहने के लिए वेट लिफ्टिंग बहुत आवश्यक होता है। इसका बेहतर और जल्दी परिणाम प्राप्त करने के लिए कुछ आसान ट्रिक्स जरूर अपनाएं।

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "