इन तरीकों से भी किए जा सकते हैं हैंडस्टैंड पुशअप

How to Do Handstand Pushup Variations

हैंडस्टैंड पुशअप्स को वर्टिक पुशअप्स भी कहते हैं। यह पुशअप्स करने का एक तरीका होता है जिसमें आप अपने हाथों के बल खड़े होते हैं और पैर ऊुप हवा में दीवार की तरफ होते हैं। इस करने के लिए आपको स्ट्रैंथ के साथ अपने शरीर पर कंट्रोल करने की जरुरत होती है। क्योंकि इसमें आपके शरीर के ऊपरी हिस्से को ऊपर-नीचे करना होता है। हैंडस्टैंड पुशअप्स साधारण पुशअप्स की तुलना में आपके ट्राईसेप्स पर ज्यादा प्रभाव डालते हैं। इसके साथ ही यह कंधे, हाथों की मसल्स पर काम करते हैं। हैंडस्टैंड पुशअप्स करते समय आप कोर और हाथ दोनों की मसल्स का इस्तेमाल शरीर के संतुलन के लिए किया जाता है। यह बहुत ही मुश्किल एक्सरसाइज है। लेकिन कुछ बदलाव करके इसे आसानी से किया जा सकता है और फायदे भी वहीं होते हैं। तो आइए आपको इन बदलावों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: कंधों की डेल्ट मसल्स को शानदार बनाने के लिए एक्सरसाइज]

दीवार को पकड़कर चलें:

इसे करने के लिए सबसे पहले अपने पैरों को दीवार की तरफ करके पुशअप्स की पोजीशन में आ जाएं। उसके बाद अपने हाथों की मदद से चलें। यह तब तक करें जब तक आप हैंडस्टैंड पुशअप की टॉप पोजीशन में ना आ जाएं। इस पोजीशन में 15 सेकेंड तक रहें। इसे करते समय अपने कंधों को कान से ऊपर रखें।

पाइक पुशअप:

इसे करते समय अपने हाथों को फर्श पर और पैरों को बैंच पर रखें और अपने कूल्हों को ऊपर उठाएं। इसे करते समय ज्यादा से ज्यादा वजन अपने हाथों पर डालें। अपने हाथों को इतना मोड़ें की आपका सिर फर्श से टच हो जाए। उसके बाद ऊपर आ जाएं। [ये भी पढ़ें: ओवर हेड प्रेस को करने का सही तरीका जानें और अपने कंधों को मजबूत बनाएं]

इंवर्टिड पुशअप: इसे करने के लिए अपने पैरों को ऊपर दीवार की तरफ करके सिर को फर्श की तरफ नीचें और ऊपर करें। इसे करते समय अपने हाथों को दीवार से दूर रखें। अगर आपके हाथ दीवार के जितने पास होंगे आपको मूवमेंट करने में उतनी ही दिक्कत होगी।

फुल हैंडस्टैंड पुशअप:

इसे करने के लिए अपने पैरों को हवा में ऊपर करके खुद को इतना नीचे करें कि आपका सिर फर्श से टच हो। उसके बाद पुशअप्स करें। [ये भी पढ़ें: एक दिन में आपको कितने कितने पुश-अप्स करने चाहिए]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "