समय की कमी है तो घर पर ही करें हिट वर्कआउट

high-intensity-interval-training-workout you can do at home

अगर आपके पास समय की कमी है तो हिट वर्कआउट आपके लिए अच्छा विकल्प हैं। हिट वर्कआउट का तात्पर्य हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग वर्कआउट से हैं। इन वर्कआउट को बहुत ही कम समय में किया जाता है तथा इनमें काफी ज्यादा मात्रा में कैलोरी बर्न होती है। आमतौर पर इस तरह के वर्कआउट जिम में किये जाते हैं लेकिन कुछ ऐसे हिट वर्कआउट भी हैं जिनको आप घर पर ही कर सकते हैं। आइए जानते हैं ऐसे हिट वर्कआउट्स के बारे में जिनको आप घर पर कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: वर्कआउट करते समय रखें इन बातों का भी रखें ध्यान]

निर्देश: इन वर्कआउट को आप 18 राउंड में करें, जिसमें आप 10 से 30 सेकंड का अंतराल ले सकते हैं और बाद हर वर्कआउट के बीच 10 सेकंड का अंतराल लें, यदि को वर्कआउट ज्यादा मुश्किल है तो उसमें 30 सेकंड का समय लें।

रेपटाइल पुश-अप्स:

इसको करने के लिए सबसे पहले फर्श पर पुश अप्स की मुद्रा में आ जायें और अपने एब्स, पेट और थाई को सख्त कर लें। इसके बाद पुश करते समय अपने अपने एक पैर को घुटनों से मोड़ते हुए त्रिकोण आकार में दूसरे पैर से टच करने की कोशिश करें। इसके बाद पुश-अप करें। [ये भी पढ़ें: सिक्स पैक एब्स बनाते समय रखें इन बातों का ध्यान]

स्क्वॉट जम्प इन/आउट:

इस वर्कआउट को करने के लिए सबसे पहले दोनों पैरों पर खड़े हो जाये, इसके बाद अपने नीचे बैठते हुए अपने आप को कमर और घुटनों से मोड़ें। अपने दोनों हाथों को फर्श पर टच करते हुए, खड़े हो जाए, फिर वापस इस तरह से करें। धीरे-धीरे इसको तेज गति से करना शुरू करें।[ये भी पढ़ें: सिक्स पैक एब्स बनाते समय रखें इन बातों का ध्यान]

पाइक पुश-अप्स:

इसको करने के लिए सबसे पहले डॉग पोज में खड़े हो जाये। इसके बाद अपने सिर को फर्श की तरफ लेकर जाये। जितना कोशिश हो सके अपने सिर को फर्श के करीब ले जाने की कोशिश करें। इसके बाद पुश-अप्स करें और फिर वापस उसी मुद्रा में आ जाए।

वी अप इन/आउट:

इसको करने के लिए सबसे पहले एक स्थान पर लेट जाये। इसके बाद अपने दोनों पैरों को ऊपर की तरह घुटनों से उठाते हुए 90 डिग्री के कोण पर रखें और अपनी छाती को अपनी थाई के सामने लाये। अब अपने हाथों को सीधा रखें। इस मुद्रा में आने के बाद आपका शरीर वी शेप की मुद्रा में होगा। इसको करने के बाद वापस उसी मुद्रा में आ जाएं और फिर से करें। इसको तेज गति से करने की कोशिश करें। [ये भी पढ़ें: जानें हल्के वजन वाले एक्सरसाइज के फायदे]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "