इन एक्सरसाइज के साथ करें जिम की शुरुआत

start gyming with these exercises

जिन लोगों ने हाल ही में एक्सरसाइज करना शुरू किया है उन्हें कई खास तरह की बातों का ध्यान रखना चाहिए। शुरुआती दिनों में ज्यादा मुश्किल एक्सरसाइज नहीं करना चाहिए, शुरुआत में ऐसे एक्सरसाइज करनें की कोशिश करें जो आसान हो। अगर आप शुरूआती दिनों में ही मुश्किल एक्सरसाइज करना शुरू करते हैं तो आपके चोटिल होने की संभावना अधिक रहेगी। तो आइए जानते हैं एक्सरसाइज की शुरूआत करने वाले लोगों को किस तरह के एक्सरसाइज करनी चाहिए। [ये भी पढ़ें : सिक्स पैक एब्स पाने के लिए जरुरी नहीं है हैवी एक्सरसाइज]

शुरुआत में किये जाने वाले एक्सरसाइज:
विशेषज्ञ भी एक्सरसाइज की शुरूआत करने वाले लोगों को मुख्य रूप से कार्डियो ,स्ट्रेंथ ट्रेनिंग, बॉडी फ्लेरिबिलिटी जैसे एक्सरसाइज करने की सलाह देते हैं।

कार्डियो:
start gyming with these exercisesएक्सरसाइज करने के शुरुआती दिनों में कार्डियो करना काफी है। इसके अंतर्गत टहलना, दौड़ना, एरोबिक, साइकिलिंग, तैरना और डांसिंग मुख्य रूप से शामिल हैं। नियमित रूप से कार्डियो एक्सरसाइज करने से आपका हृदय स्वस्थ रहता है। इसके साथ-साथ यह सहनशीलता भी बढ़ाने का भी काम करता है। कार्डियो करने के लिए इन दिशा निर्देशों का पालन करें :-
* अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो सप्ताह में 5 दिन कम से कम 30 मिनट तक कार्डियो जरूर करें।
* वजन कम करने के लिए 60 से 90 मिनट तक सप्ताह के हर दिन कार्डियो से जुड़े एक्सरसाइज करें।  [ये भी पढ़ें: असरदार तरीकें जो बना देंगे रनिंग को आसान]

स्ट्रेंथ ट्रेनिंग:
स्ट्रेंथ ट्रेनिंग, एक्सरसाइज एक अन्य रूप हैं जो कार्डियो से भिन्न है। इसके अंतर्गत वेट लिफ्टिंग (डम्बल, बार बेल, रेजिस्टेंस बैंड या अन्य उपकरणों के जरिए) से मसल्स की क्षमता को बढ़ाया जाता है। इस तरह के एक्सरसाइज के जरिए शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाया जा सकता है।
इसको करने के लिए इन दिशा निर्देशों का पालन करें-
* इसके अंतर्गत आठ से बारह एक्सरसाइज करना ठीक माना जाता है। इसमें लोअर बॉडी, चेस्ट, बैक, शोल्डर, बाइसेप्स, ट्राइसेप्स और एब्स को अधिक फायदा पहुंचता है।
* हर मसल्स ग्रुप के लिए एक सेट के 8 से 16 रैप्स करें, ज्यादा फायदों के लिए दो से तीन सेट लगाए जा सकते हैं।
* इस तरह के एक्सरसाइज को सप्ताह में दो से तीन दिन करना काफी फायदेमंद माना जाता है।

बॉडी फ्लेरिबिलिटी:
start gyming with these exercisesइस तरह के एक्सरसाइज को करने से शरीर में खिंचाव और लचीलापन आता है जो अन्य एक्सरसाइज के मुकाबले बहुत फायदेमंद साबित होता है। इस एक्सरसाइज की एक खास बात यह होती है कि इसको करने के लिए किसी खास समय की जरूरत नहीं होती है बल्कि दिन के किसी भी समय में इस एक्सरसाइज को किया जा सकता है। अगर आप किसी अन्य वर्कआउट को करने से पहले इस एक्सरसाइज़ को करते हैं तो शरीर पर इसका अच्छा प्रभाव नहीं पड़ता है।
इसको करने के लिए इन दिशा निर्देशों का पालन करें-
* स्ट्रेच करने से पहले अपने शरीर को वार्म जरूर कर लें।
* हैमस्ट्रिंग और लोअर बैक के लिए स्टैटिक स्ट्रेच करें।
* हर तरह के स्ट्रेच एक्सरसाइज को 15 से 30 सेकेंड के अंतराल में करें। [ये भी पढ़ें: कैलोरी घटाने के लिए आजमाएं किक बॉक्सिंग]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "