सिटिंग जॉब से होने वाली समस्याओं को दूर करें इस एक्सरसाइज से

exercise to counter ill effects of sitting jobs

अगर आप नियमित रूप से अपने कूल्हों, हैमस्ट्रिंग्स, कंधो, छाती और गर्दन में महसूस करते हैं तो इसके पीछे का कारण आपकी डेस्क जॉब हो सकती है। दरअसल सिटिंग जॉब में व्यक्ति का शरीर एक जगह स्थिर रहता है जिससे शरीर में मौजूद जोड़(जॉइंट्स) जकड़ जाते हैं। ऐसे में कमर, घुटनों, कन्धों और गर्दन में दर्द होना लाजिमी हो जाता है। सिटिंग जॉब करने वाले लोगों को आमतौर पर यह सलाह दी जाती है की लम्बे समय तक एक ही अवस्था में न बैठे। लगातार एक ही अवस्था में बैठने से शरीर में जकड़न की समस्या तो होती ही हैं साथ हीं साथ जॉइंट्स से सम्बंधित समस्याओं के उत्पन्न होने की संभावनाएं बढ़ जाती है। हालांकि राहत की बात ये है की सिटिंग जॉब से होने वाले समस्यों को दूर करने के लिये आसान सा एक व्यायाम ही काफी है। [ये भी पढ़ें: जांघो को मजबूत बनाने वाले व्यायाम या एक्सरसाइज]

इस स्ट्रेचिंग व्यायाम को करने का तरीका:

exercise to counter ill effects of sitting jobs
Photo credit; prevention.com
बिस्तर पर या फर्श पर दो तकिये लगा लें, तकिये की ऊंचाई जितनी ज्यादा हो उतना ही बेहतर है। पीठ के बल तकिये पर लेट जाएं और तकिये को अपने कंधे, कमर और नितम्बों के नीचे रखें। अब अपने दोनों पैरों और हाथों को फैला लें। हाथों को इस तरह फैलाएं की दोनों हाथों की दूरी शरीर से ज्यादा हो। अब इस अवस्था में गहरी सांस ले और कम से कम 3 मिनट तक इसी अवस्था में रहें। एक बार अभ्यस्त हो जाने के बाद इस स्ट्रेचिंग को करने की क्षमता धीरे-धीरे बढ़ाएं। [ये भी पढ़ें: कुर्सी पर बैठे-बैठे करें ये आसान एक्सरसाइज]

इसे स्ट्रेचिंग व्यायाम के फायदे: यह व्यायाम शरीर के जोड़ों से तनाव और जकड़ को दूर करता है। इस स्ट्रेचिंग व्यायाम से छाती और कंधे की मांसपेशियां भी खुल जाती है। इस व्यायाम से शरीर की मांसपेशियां और जोड़ों में सिटिंग जॉब की वजह से हुई क्षति धीरे धीरे ठीक हो जाती है। नियमित रूप से किये जाने पर इस व्यायाम से डेस्क जॉब से होने वाली समस्याओं को दूर किया जा सकता है। अच्छी बात ये है कि यह व्यायाम करने में उतना कठिन भी नहीं होता है। [ये भी पढ़ें: जानें केवल पानी पीने के क्या-क्या हैं अद्भुत स्वास्थ्य लाभ]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "