मसल्स बिल्डिंग के लिए गाय या भैंस किसका दूध पीना चाहिए

Read in English
cow milk or buffalo milk which one is better for muscles building

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए गाय और भैंस दोनों का दूध काफी फायदेमंद होता है, इसमें कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। गाय और भैंस दोनों के दूध की अपनी-अपनी खासियत होती है। कुछ लोग मानते हैं कि मसल्स बिल्डिंग और मसल्स के विकास के लिए भैंस के दूध का सेवन करना चाहिए, तो दूसरी ओर कुछ लोग इसके लिए गाय के दूध को जरुरी बताते हैं। इसके साथ ही गाय का दूध पचाना आसान होता है और भैंस का दूध पचाने के लिए पाचन-तंत्र को अधिक मेहनत करनी पड़ती है। आइये जानते हैं कि मसल्स ग्रोथ के लिए दोनों में से किसका दूध ज्यादा मददगार होता है। [ये भी पढ़ें: फिटनेस प्लान को फॉलो करने के फायदे]

गाय और भैंस के दूध में अंतर:

  • गाय के दूध में 4 प्रतिशत फैट होता है तो वहीं भैंस के दूध में 6 प्रतिशत फैट पाया जाता है।
  • गाय के दूध में 3 प्रतिशत प्रोटीन पाया जाता है और भैंस के दूध में 4 प्रतिशत प्रोटीन की मात्रा होती है। [ये भी पढ़ें: बातें जो डेडलिफ्ट करते समय याद रखनी चाहिए]
  • भैंस के दूध में गाय के दूध की अपेक्षा ज्यादा कैल्शियम होता है।
  • भैंस के दूध में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम पाई जाती है और गाय के दूध में ज्यादा कोलेस्ट्रॉल होता है।

मसल्स बिल्डिंग के लिए कौन सा दूध पिएं:

गाय और भैंस के दूध में अंतर जानने के बाद यह देखा जा सकता है कि मसल्स ग्रोथ के लिए जरुरी पोषण और मदद भैंस के दूध से ज्यादा मिलती है। क्योंकि भैंस के दूध में प्रोटीन ज्यादा होता है, जो मसल्स ग्रोथ को बढ़ाता है और पेट को ज्यादा देर तक भरा रखता है। पाचन तंत्र को इसे पचाने में ज्यादा समय लगता है। इसके साथ ही भैंस के दूध में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है, जिससे हृदय का स्वास्थ्य सही रहता है।

भैंस के दूध की अन्य विशेषताएं:

  • बाजार में भैंस का दूध ज्यादा आसानी से मिल जाता है।
  • भैंस के दूध में मौजूद फैट में 34 प्रतिशत अनसैचुरेटेड फैट्स की मात्रा होती है, जो कि शरीर के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा मौजूद फैट सैचुरेटेड फैट होता है, जो कि संतुलित मात्रा में मौजूद होता है।
  • भैंस के दूध जैसे डेयरी उत्पादों में मिलने वाला सैचुरेटेड फैट शरीर की ताकत बढ़ाने में मददगार होता है।
  • गाय के दूध से ज्यादा भैंस के दूध का स्वाद बेहतर होता है।

नतीजा:
हालांकि दोनों तरह के दूध में स्वास्थ्यवर्धक तत्व मौजूद होते हैं, लेकिन भैंस के दूध में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होने की वजह से मसल्स ग्रोथ के लिए इसका सेवन करना चाहिए। बच्चों और बूढ़ों के लिए गाय का दूध का सेवन फायदेमंद होता है क्योंकि वह आसानी से पच जाता है। [ये भी पढ़ें: वर्कआउट जिससे बैक और बाइसेप्स मसल्स एक साथ मस्कुलर बनती है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "