Weight training exercise: शुरुआत में कौन से वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज करें

Read in English
Weight training exercise for beginners

Weight training exercise: वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज करते वक्त आपको अधिक सावधान रहने की जरुरत है।

Weight training exercise: अधिकतर लोग वजन कम करने और फिट रहने के लिए जिम जाना शुरु करते हैं लेकिन अक्सर उन्हें यह नहीं पता होता कि उन्हें कैसे शुरूआत करनी है। अगर आपने अभी जिम की शुरुआत की हैं तो आपको कैसे पता हो कि आप सही वर्कआउट कर रहे हैं? ऐसे में आपको वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज, जिम में क्या करना है और क्या नहीं करना है, इन सभी के बारे में पहले से जानकारी होनी चाहिए। वेट ट्रेनिंग या वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज आपको वजन घटाने, वजन बढ़ाने, कैलोरी बर्न करने, मसल्स को टोन करने, आदि में मदद करती हैं। यह मसल्स और लिगामेंट्स को मजबूत करने में मदद करती है। आपको शुरुआत में हार्ड वर्कआउट करने की जरुरत नहीं है। धीमी शुरुआत करें और फिर अपनी गति को बढ़ाएं। आइए जानते हैं कि आपको शुरुआत में कौन से वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज करें। [ये भी पढ़ें: Bad fitness habits: फिटनेस रुटीन को खराब करने वाली आदतें]

जिम में वर्कआउट के लिए बेस्ट वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज

  • ट्रेडमिल रनिंग
  • लेग प्रेस
  • बटरफ्लाई
  • एब क्रंच
  • लैट पुलडाउन

ट्रेडमिल रनिंग

ट्रेडमिल पर चलना सबसे अच्छा वार्म अप कार्डियो वर्कआउट है। यह अधिकतम कैलोरी बर्न करने में मदद करता है। ट्रेडमिल पर 10-15 मिनट के लिए रनिंग करने से शरीर को वार्म अप करने में मदद मिलती हैं और कैलोरी कम होती हैं। ट्रेडमिल पर वॉक करके धीरे-धीरे वर्कआउट शुरु करें और धीरे-धीरे रनिंग शुरू करें।

लेग प्रेस

अगर आप स्ट्रेंथ ट्रेनिंग या वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज करना चाहते हैं तो लेग प्रेस काफी प्रभावी एक्सरसाइज है। यह क्वेड्रीसेप्स, ग्लूट्स, हैमस्ट्रिंग मसल्स को मजबूत बनाता है। यह पैर की मांसपेशियों को उत्तेजित करने और उन्हें टोन करने में मदद करता है। आप प्रत्येक के 10 रैप्स के 2 सेट कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज जिन्हें वर्कआउट से पहले नहीं करना चाहिए]

बटरफ्लाई

बटरफ्लाई एक्सरसाइज न केवल आपकी चेस्ट को टोन करने में मदद करती है बल्कि आपके कंधे, अपर आर्म्स, लोउर आर्म्स और पेट को टोन करने में भी मदद करती है। जब आप अपनी आर्म्स को खोलते हैं और फिर उन्हें वापस सामने लाते हैं तो इससे स्ट्रेच होता है। आप इसे डंबेल की मदद से भी कर सकते हैं और इसके लिए एक विशेष मशीन भी है। जब आप शुरुआत कर रहे हैं तो इस एक्सरसाइज के 10 रैप्स का 1 सेट करें।

एब क्रंच

अगर आप अपने पेट या एब्स को टोन करना चाहते हैं तो एब क्रंच प्रभावी एक्सरसाइज हैं। ट्रेनिंग की शुरुआती पीरियड्स के लिए हाफ क्रंचेज और फुल क्रंचेज दोनों फायदेमंद हैं। यह आपके एब्डोमिनल एरिया को टोन करता है। आप इसका अभ्यास जमीन पर लेटकर कर सकते हैं या इसके लिए निर्धारित मशीन का इस्तेमाल कर सकते है। शुरुआत में 20 रैप्स के 2 सेट करें।

लेट पुलडाउन

लेट पुलडाउन एक्सरसाइज आपकी आर्म्स, पीठ, कंधे को पूरी तरह से टोन करने में मदद करता है। आप लेट पुलडाउन मशीन पर इसके कई वेरिएशन को आजमा सकते हैं। नैरो लेट पुलडाउन, वाइड ग्रिप लेट पुलडाउन, पुलडाउन एट द बैक नेक, पुलडाउन एट द फ्रंट, वन आर्म पुलडाउन आदि। आप इसके 20 रैप्स के 2 सेट कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: मूड को बूस्ट करने के लिए बेहतरीन वर्कआउट]

जिम की शुरुआत करने वाले लोगों के लिए ये सभी बेहतरीन एक्सराइज हैं। जैसे ही आप जिम में अधिक समय तक अभ्यास करने लगेंगे, उसके अनुसार आप अपने वर्कआउट रुटीन में आवश्यक बदलाव कर सकते हैं। इस लेख को इंग्लिश में भी पढ़ें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "