हार्मोन संतुलन के लिए एक्सरसाइज करने का ये समय है बेहतर

best time to exercise for better hormonal balance

हार्मोन के लेवल को संतुलित रखने के लिए एक्सरसाइज और शारीरिक गतिविधियां दोनों जरुरी होती हैं। अगर आप शरीर में हार्मोन लेवल का ध्यान नहीं देते हैं तो हमारे शरीर में कोर्टिसोल हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है। जिसकी वजह से मसल्स से प्रोटीन टूटकर ग्लूकोज में बदलने लगते हैं। जिससे रक्त में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है और कई समस्याओं के होने का खतरा बढ़ जाता है। आइए जानते हैं हार्मोन को संतुलित रखने के लिए कौन सी एक्सरसाइज करनी चाहिए और उसका सही समय क्या होता है। [ये भी पढ़ें: हिप्स मसल्स को मजबूत बनाने के लिए जरूर करें ये स्ट्रेच]

1-फॉलिक्यूलर फेस के दौरान दौड़ें: फॉलिक्यूलर फेस पीरियड्स होने के बाद शुरु होता है। यह वो समय होता है जब कूप ओवरी में परिपक्क हो जाते हैं और ओव्यूलेशन के लिए तैयार हो रहे होते हैं। इस फेस के दौरान दिन के समय कार्डियों करना चाहिए। इससे एस्ट्रोजन का लेवल कम और कार्टिसोल का लेवल ठीक होता है। अगर आप जॉब करते हैं तो इसके बाद कुछ समय के लिए ट्रेडमिल पर दौड़े। यह हार्मोन के संतुलन के लिए फायदेमंद होता है।

2-ओव्यूलेटिंग के समय सुबह एक्सरसाइज करें: ओव्यूलेशन के दौरान शरीर में ऊर्जा का फायदा लेना चाहिए। इसके लिए सुबह उठकर एक्सरसाइज करें। ओव्यूलेशन के दौरान सुबह वर्कआउट करना आसान होता है। क्योंकि इस समय टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्राव अच्छा होता है। ओव्यूलेटिंग के समय आपके शरीर में ज्यादा मात्रा में ऊर्जा होती है। जो सुबह एक्सरसाइज करने के लिए फायदेमंद होता है। [ये भी पढ़ें: 20 की उम्र में फिट रहने से होते हैं ये फायदे]

3-ल्यूटल फेस के दौरान पिलेट्स स्टूडियों करें: ल्यूटस फेस के पहले आधे चरण में सुबह के समय एक्सरसाइज करें। एक बार जब आप इसे करने में सहज हो जाते हैं तो आप बोर होने लगते हैं। इसके बाद आप शाम को पिलेट्स या मजबूती देने वाली एक्सरसाइज कर सकती हैं। इसमें आप सोने से पहले योगा भी कर सकती हैं। यह ल्यूटल के आखिरी चरण के लिए फायदेमंद होता है।

4-पीरियड्स के दौरान टहलें: पीरियड्स के दौरान टहलना अच्छा होता है। आपने सुना होगा इस दौरान हल्की एक्सरसाइज करने से खिंचाव से राहत मिलती है। लेकिन अगर इस दौरान असहज महसूस हो तो और आसान एक्सरसाइज करें। आप पीरियड्स के दौरान सुबह या शाम को टहल सकती हैं। [ये भी पढ़ें: पेट के निचले हिस्से में वी कट पाने के लिए एक्सरसाइज]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "