लेग एक्सरसाइज जिनका अभ्यास आप नहीं करते हैं

amazing leg exercises you are not doing

photo credit: menshealth.com

संपूर्ण शारीरिक मजबूती के लिए पैरों का मजबूत होना जरुरी है। क्वाड्स, हैमस्ट्रिंग, काफ मसल्स पैरों की मुख्य मसल्स होती हैं, जिनके ऊपर इसकी मजबूती निर्भर करती है। इसके साथ ही पैरों की मजबूती कूल्हों की ग्लूट मसल्स की कार्यक्षमता से भी प्रभावित होती है। लेकिन जिम जाने वाले लोग लेग वर्कआउट में उन एक्सरसाइज को शामिल नहीं करते हैं, जो आपके पैरों की मसल्स को मजबूती देने के साथ स्थिरता भी प्रदान करती हैं। आइये जानते हैं कि लोग कौन सी लेग एक्सरसाइज को नहीं करते हैं। [ये भी पढ़ें: आर्म्स को कैसे बड़ा और मस्कुलर बनाएं]

सिंगल लेग डंबल डेडलिफ्ट:

यह एक्सरसाइज आपकी क्वाड्स मसल्स को स्वतंत्र रूप से मजबूत बनाती है। इसे करने के लिए दोनों पैरों को मिलाकर खड़े हो जाएं और दोनों हाथों में डंबल ले लीजिए। अब बायें पैर पर शरीर का वजन डालकर धड़ को आगे की तरफ झुकाएं और दायें पैर को पीछे की तरफ ले जाएं। जब डंबल जमीन के पास आ जाएं तो शरीर को वापस सीधा कर लें। इस तरह दूसरे पैर से भी करें और इसके एक पैर से 10 रैप्स के 3 सेट्स करें।

बॉक्स जंप:

बॉक्स जंप आपके पैरों को मजबूती देता है और हैमस्ट्रिंग के साथ क्वाड्स मसल्स को मस्कुलर बनाता है। इसे करने के लिए अपने आगे एक बॉक्स रखें और दोनों पैरों की ताकत के साथ कूदकर बॉक्स के ऊपर आ जाएं। अब नीचे उतरकर दोबारा कूदें। इस एक्सरसाइज के 10 जंप करें। [ये भी पढ़ें: मसल्स बिल्डिंग के लिए गाय या भैंस किसका दूध पीना चाहिए]

रिवर्स लंज एंड किक:

इस एक्सरसाइज को करने के लिए पैरों को कमर के जितना खोलकर खड़े हो जाएं और अब बायें पैर को पीछे की तरफ ले जाकर उस घुटने को जमीन की तरफ रखें। अब दायें पैर की ताकत का इस्तेमाल करते हुए सीधे खड़े हो जाएं और बायें पैर को ऊपर की तरफ उठाते हुए सामने की तरफ किक करें। इस प्रक्रिया को दूसरे पैर से भी दोहराएं। इसके प्रत्येक पैर से 10 रैप्स के 3 सेट्स करें।

सिंगल लेग स्क्वाट:

यह एक्सरसाइज आपकी जांघो के पीछे के हिस्से, हैमस्ट्रिंग पर प्रभाव डालता है। इस एक्सरसाइज को करने के लिए सबसे पहले अपने दोनों पैरों पर खड़े हो जाएं। अब अपने बाएं पैर को आगे की ओर उठाते हुए अपने शरीर का सारा वजन दाएं पैर पर डाले। फिर दाएं पर के सहारे ही झुके। याद रखे कि इस दौरान आपकी पीठ सीधी रहे। दाएं पैर से करने के बाद यह प्रक्रिया बाएं पैर से भी करें।

बुल्गारियन स्प्लिट स्क्वाट:

इस एक्सरसाइज में ज्यादा प्रभावशाली स्क्वाट हो पाता है और क्वाड्स मसल्स पर ज्यादा खिचाव पड़ता है। इसे करने के लिए पैरों को कमर जितना चौड़ा करके खड़े हो जाएं और एक पैर पीछे बेंच पर रखें। अब पिछले पैर के घुटने को जितना हो सके नीचे लाने की कोशिश करें। अब आगे वाले पैर की ताकत से शरीर को ऊपर उठाएं। इस प्रक्रिया को दूसरे पैर से भी करें। इसके 10 रैप्स के 2 सेट करें। [ये भी पढ़ें: फिटनेस प्लान को फॉलो करने के फायदे]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "