मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल ना करने से त्वचा पर क्या प्रभाव पड़ता है

what happens when you dont moisturize your skin

त्वचा की देखभाल करने के लिए उसे मॉइश्चराइज करना जरुरी होता है। त्वचा को मॉइश्चराइज करना अपने रुटीन से कभी हटाना नहीं चाहिए। यह आपकी त्वचा को ना सिर्फ नमी प्रदान करता है बल्कि हाइड्रेट रखने में भी मदद करता है। इसके फायदों के बारे में पता होने के बावजूद भी लोग त्वचा को रोजाना मॉइश्चराइज नहीं करते हैं। अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो त्वचा को रोजाना मॉइश्चराइज नहीं करते हैं तो अब करना शुरु कर दें। जब आप मॉइश्चराइज का इस्तेमाल करना बंद कर देते हैं तो इससे आपकी त्वचा पर नकारात्मक प्रभाव पड़ने लगते हैं। तो आइए आपको उन प्रभावों के बारे में बताते हैं जो मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल ना करने से होते हैं। [ये भी पढ़ें: त्वचा को खूबसूरत बनाने के लिए लगाएं कच्चे दूध से बने फेसपैक]

झुर्रियों का दिखना: जब आप त्वचा को मॉइश्चराइज नहीं करते हैं तो इससे त्वचा पर एजिंग के लक्षण दिखने लगते हैं। यह झुर्रियां और फाइन लाइन आपके चेहरे की सुंदरता को कम कर देते हैं। झुर्रियों को दिखने से बचने के लिए रोजाना मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना शुरु कर दें।

मुहांसे होने लगते हैं: बहुत से लोगों को को लगता है कि मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना बंद कर देने से मुहांसों की समस्या कम हो जाती है मगर ऐसा नहीं है जब आप मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो मुहांसें ज्यादा होने लगते हैं। त्वचा के शुष्क होने से मुहांसों की समस्या बढ़ जाती है। त्वचा के मॉइश्चराइज होने पर रोमछिद्र खुल जाते हैं जिससे मुहासों की समस्या नहीं होती है। [ये भी पढ़ें: काजल को फैलने से कैसे बचाएं]

त्वचा का शुष्क होना: मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना बंद करने से त्वचा पर जो सबसे पहला प्रभाव पड़ता है वो त्वचा को शुष्क होना होता है। शुष्क या रुखी त्वचा की वजह से त्वचा पर जलन होने लगती है। जिससे कई त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

त्वचा का लचीलापन कम होना: त्वचा को मॉइश्चराइज ना करने से इसका लचीलापन कम हो जाता है और कोलेजन की मात्रा भी असंतुलित हो जाती है। जिसकी वजह से आपकी त्वचा पर एजिंग के लक्षण दिखने लगते हैं। त्वचा का लचीलापन सही रहने के लिए कोलेजन की मात्रा संतुलित होनी चाहिए इसलिए हमेशा त्वचा को मॉइश्चराइज करें।

सूरज की रोशनी से त्वचा को नुकसान पहुंचता है: आजकल बहुत से मॉइश्चराइजर में एसपीएफ होता है। जो त्वचा को सूरज की रोशनी के नुकसान से बचाने में मदद करता है। त्वचा को हानिकारक किरणों के प्रभाव से बचाने के लिए मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना जरुरी होता है। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं आपकी त्वचा रुखी और तैलीय दोनों है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "