क्या आप जानते हैं कि बॉडी लोशन में होते हैं हानिकारक तत्व

know about the harmful ingredients found in body lotion

हम सभी अपनी त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए कई तरह के बॉडी लोशन का इस्तेमाल करते हैं। त्वचा इन लोशन को बहुत जल्दी अवशोषित कर लेती है। जिससे वह मुलायम और कोमल हो जाती है। मगर क्या आपको पता हैं त्वचा को कोमल रखने वाले बॉडी लोशन में क्या सामग्री होती है? अगर नहीं तो हम आपको उन हानिकारक सामग्री के बारे में बताते हैं जो आपके बॉडी लोशन में होती हैं और आपको नुकसान पहुंचा सकती हैं। [ये भी पढ़ें: सही तरीके से आई शैडो अप्लाई करने के लिए टिप्स]

ब्यूटिलेटिड हाइड्रोक्सीनिसोल (Butylated Hydroxyanisole) (बीएचए): बीएचए एक खाद्य परिरक्षक और स्टेबलाइज़र है जो आपके बॉडी लोशन से लेकर आपकी लिपस्टिक सभी में इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन ध्यान रहे यह एक अंतःस्रावी विघटनकारी होता है जिससे कई बीमारियों के होने की संभावना रहती है।

2-डीएमडीएम हाइडेनटोइन: यह कॉस्मेटिक प्रोडक्ट में इस्तेमाल की जाने वाली उन सामग्री में से है जो फॉर्मेल्डिहाइड रिलीज करता है। इसकी वजह से आंखों और त्वचा पर जलन होने लगती है। अगर आपके बॉडी लोशन में डीएमडीएम हाइडेनटोइन है तो इससे आपको कई तरह की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। [ये भी पढ़ें: कैसे करें पुरुष शरीर से अनचाहे बालों का सफाया]

3-खुश्बूदार परफ्यूम: अगर आपके बॉडी लोशन से किसी अच्छे फल या किसी और चीज की खुशबू हो तो आपको बहुत अच्छा महसूस होता है। लेकिन यह कोई प्राकृतिक खुशबू नहीं होती है। जब आप इसके लेबल पर देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि खुशबू के लिए आपके बॉडी लोशन में केमिकल मिले होते हैं। पिलेट्स( phthalates) नाम का एक केमिकल होतै है जिसका इस्तेमाल कॉस्मेटिक प्रोडक्ट में कीटनाशकों को खत्म करने के लिए किया जाता है। जो आपके शरीर के अंगों के लिए हानिकारक होता है।

4-पेराबेंस(Parabens): पेराबेंस का इस्तेमाल हर कॉस्मेटिक प्रोडक्ट मे किया जाता है। यह मॉस्चराइजर में बैक्टीरिया और फंगस को पनपने से रोकता है। यह तब तक अच्छा होता है जब तक यह व्यक्ति के हार्मोंन को प्रभावित ना करें। अगर यह व्यक्ति के हार्मोंन को प्रभावित करने लगे तो इसे कैंसर जैसी गंभीर बीमारी होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

5-ट्राईएथेनोलामाइन(Triethanolamine): इस एल्कलाइन सामग्री का इस्तेमाल बॉडी लोशन में पीएच के स्तर को संतुलित रखने में किया जाता है। डर्माटोलॉजी के मुताबिक ट्राईएथेनोलामाइन से त्वचा, सांस लेने की नली में जलन और इम्यून सिस्टम में विषाक्त पदार्थ एकत्रित होने का खतरा रहता है। [ये भी पढ़ें: पुरुषों के लिए जरुरी है यह ब्यूटी टिप्स]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "