त्वचा को जवां बनाएं रखने के लिए एंटी एजिंग ऑयल

Read in English
How to use anti ageing oils for youthful skin

आपकी उम्र जैसे बढ़ती है वैसे ही इसके लक्षण आपके शरीर पर दिखने लगते हैं। ये लक्षण सबसे पहल आपकी त्वचा और आँखों के आस-पास नजर आते हैं। जिसके दौरान चेहरे पर झुर्रियां, फाइन लाइन्स और दाग-धब्बे आदि होने लगते हैं और इसी कारण आपकी त्वचा बेजान दिखने लगती है। हर किसी को खिली और जवां त्वचा पसंद होती है। अगर आप भी चाहते हैं कि उम्र बढ़ने के साथ आपकी त्वचा जवां ही रहे तो आप कुछ ऑयल्स का इस्तेमाल अपने चेहरे के लिए कर सकते हैं। इन ऑयल्स को एंटी-एजिंग ऑयल्स कहते हैं। त्वचा से प्राकृतिक तेल खो जाने के कारण भी त्वचा रुखी होने लगती है। इसीलिए ऑयल त्वचा को हाइड्रेटेड रखते हैं। आइए जानते हैं कौन से एंटी एजिंग ऑयल त्वचा को जवां बनाएं रखते हैं और इनका इस्तेमाल कैसे करना है। [ये भी पढ़ें: सर्दियों में रूखी त्वचा के लिए फेस पैक]

आर्गन ऑयल
How to use anti ageing oils for youthful skinआर्गन ऑयल में 80 प्रतिशत फैटी एसिड होते हैं जो कि फ्रई रेडिकल्स से लड़ते हैं और त्वचा को जवां बनाएं रखने में मदद करते हैं। इसके इस्तमाल के लिए दो-तीन बूंदे ऑर्गन ऑयल की लेकर इससे हर रात को सोने से पहले त्वचा पर सर्कुलर मोशन में मालिश करें। इसके विटामिन ए और ई त्वचा के ढ़ीलेपन, फाइन लाइन्स और झुर्रियों को कम करते हैं।

जोजोबा ऑयल
How to use anti ageing oils for youthful skinसबसे हाइड्रेटिंग ऑयल में से एक जोजोबा ऑयल में एंटी एजिंग प्रोपर्टीज पाई जाती हैं। इसमें मौजूद विटामिन सी, ई आपकी त्वचा की कोशिकाओं के पुनर्निर्माण में मदद करते हैं। किसी भी मसाज ऑयल जैसे बादाम के तेल में जोजोबा ऑयल की कुछ बूंदे मिलाकर नहाने के बाद अपने चेहरे पर हल्के हाथों से मसाज करें। इस तरीके को हर रोज दोहराएं। [ये भी पढ़ें: वैक्स करने के बाद ना करें कुछ चीजें]

एवोकाडो ऑयल
एवोकाडो ऑयल एक गाढ़ा तेल है जो त्वचा की नमी को वापस लाता है और त्वचा को हाइड्रेटेड रखने में मदद करता है। एवोकाडो ऑयल विटामिन ई और ए से समृद्ध होता है साथ ही इसमें कोलेजन-बूस्टिंग स्टेरोलिन भी पाया जाता है। । इसके इस्तेमाल के लिए आप फेस सीरम में कुछ बूंदे एवोकाडो ऑयल की मिलाकर रात को सोने से पहले मालिश करें।

नारियल का तेल
नारियल तेल कोलेजेन के उत्पादन को बढ़ावा देता है, जो झुर्रियाँ और उम्र के लक्षण जैसे रिंकल्स को कम करता है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो कि डैमेज सेल्स को पोषण देते हैं और फ्री रेडिकल्स से रक्षा करते हैं। इसके इस्तेमाल के लिए नहाने के बाद नारियल तेल से अपनी त्वचा की मालिश करें।

बादाम का तेल
बादाम के तेल में विटामिन ई और विटामिन के मौजूद होते हैं जो कि त्वचा में रक्त संचार को बढ़ाते हैं साथ ही स्किन को रिजेनरेट करने में मदद करते हैं। इसके अलावा बादाम का तेल त्वचा में लचक और कसाव को बनाएं रखता है जिससे त्वचा ढ़ीली नहीं होती। इसके इस्तेमाल के लिए नहाने के बाद बादाम के तेल से त्वचा की मालिश करें। [ये भी पढ़ें: हाथ-पैरों की त्वचा को खूबसूरत बनाने के लिए अपनाएं कुछ उपाय]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "