oily skin: त्वचा तैलीय क्यों हो जाती है

Read in English
causes of oily skin

त्वचा के तैलीय होने के पीछे कारण होते हैं। जिनके बारे में पता होना जरुरी होता है।

तैलीय त्वचा (Oily skin) की वजह से आपके चेहरे पर मुंहासों होने की संभावना बढ़ जाती है। जिन लोगों के रोमछिद्र (Pores)बड़े होते हैं उनकी त्वचा तैलीय होती है। हमारा शरीर त्वचा को मुलायम बनाने के लिए तेल का उत्पादन करता है लेकिन ज्यादा मात्रा में सीबम (Sebum)के उत्पादन से त्वचा पर ज्यादा तेल रहने लगता है। जिसकी वजह से त्वचा तैलीय बन जाती है। जब त्वचा पर ज्यादा तेल का उत्पादन होता है। त्वचा पर मैजूद तेल का मृत त्वचा से मिल जाने की वजह से मुंहासें और ब्लैकहेड होने लगते हैं। त्वचा के तैलीय होने के पीछे भी कई कारण होते हैं। इन कारणों के बारे में जानकर त्वचा को तैलीय होने बचाया जा सकता है। तो आइए आपको इन कारणों के बारे में जिससे त्वचा तैलीय हो जाती है। [ये भी पढ़ें: तैलीय त्वचा से बचने के लिए किन खाद्य पदार्थों का सेवन करें]

त्वचा के तैलीय(oily skin) होने के कारण

हार्मोनल बदलाव(Hormonal changes)
तनाव
कॉस्मेटिक प्रोडक्ट(Cosmetic product) का ज्यादा इस्तेमाल करना
वातावरण(Environment)
डाइट(Diet)

हार्मोनल बदलाव: शरीर में हार्मोनल बदलाव होने का सबसे ज्यादा असर यह होता है कि आपकी त्वचा पर तेल का उत्पादन बढ़ जाता है। महिलाओं के शरीर में एंड्रोजन(Endrogen)हार्मोन का स्तर घटता-बढ़ता रहता है। पीरियड्स से पहले, बाद में और प्रेग्नेंसी के दौरान हार्मोन बदलाव होते हैं। इससे सीबम का उत्पादन बढ़ जाता है और त्वचा तैलीय हो जाती है। [ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के बाद हार्मोनल बदलाव को सामान्य कैसे करें]

तनाव:

causes of oily skin
तनाव(Stress) की वजह से त्वचा पर तेल का उत्पादन बढ़ जाता है।

 

दुनिया में ऐसे बहुत ही कम लोग होते हैं जिन्हें तनाव नहीं होता है। हर व्यक्ति को किसी ना किसी चीज का तनाव रहता है और यह तनाव त्वचा पर दिखने लगते है। तनाव की वजह से हमारी त्वचा अत्यधिक मात्रा में एंड्रोजन हार्मन का उत्पदान करने लगता है जिसकी वजह से त्वचा तैलीय हो जाती है। त्वचा को तैलीय होने से बचाने के लिए मेडिटेशन, योगा करना चाहिए ताकि तनाव कंट्रोल हो सके और आपकी त्वचा निखरी हो।

कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का ज्यादा इस्तेमाल: किसी भी चीज का ज्यादा इस्तेमाल आपके लिए हानिकारक होता है। फिर चाहे कॉस्मेटिक प्रोडक्ट ही क्यों ना हो। ज्यादा कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाता है। इसलिए त्वचा को तैलीय होने से बचाने के लिए कम कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें।

वातावरण: मौसम में बदलाव त्वचा के तैलीय होने का सबसे बड़ा कारण होता है। जब आप नमी वाली जगह पर रहते हैं तो त्वचा पर पसीना आता है जिससे त्वचा तैलीय हो जाती है।

डाइट:

causes of oily skin
स्वस्थ खान-पान आपकी त्वचा को तैलीय बना सकता है।

 

जिस तरह से आनुवांशिकता, वातावरण और तनाव त्वचा के तैलीय होने के कारण बनते हैं ठीक उसी तरह अस्वस्थ खान-पान भी आपकी त्वचा के तैलीय होने का कारण बनता है। स्वस्थ खान-पान का सेवन करना बेहद जरुरी होता है। त्वचा को तैलीय होने से बचाने के लिए अपनी डाइट में कुछ चीजों को शामिल करना बेहद जरुरी होता है। आपको खीरा, नट्स, संतरा, एवोकाडो, नारियल पानी का सेवन करना चाहिए। [ये भी पढ़ें: पांच दिन का डाइट प्लान जो त्वचा को निखारता है]

[जरुर पढ़ें: Skin Hydration: एलोवेरा जेल के इस्तेमाल से कैसे करें त्वचा को हाइड्रेट]

त्वचा के तैलीय होने के पीछे कई कारण होते हैं। इनके बारे में जानकर त्वचा को तैलीय होने से बचाया जा सकता है। इस आर्टिकल को इंग्लिश(English) में भी पढ़ें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "