तैलीय त्वचा के लिए शहद क्यों है फायदेमंद

Read in English
Amazing Benefits of Honey for Oily Skin

तैलीय त्वचा आम समस्या है और इस समस्या को दूर करने के लिए लोग अनेकों प्रयास करते हैं। फेशियल या फिर बाजार में मिलने वाले केमिकल प्रोडक्ट्स का भी इस्तेमाल करते हैं ताकि यह समस्या दूर हो सके। लेकिन इन प्रोडक्ट्स में कई केमिकल मौजूद होते हैं जो आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में शहद का इस्तेमाल आपके लिए एक प्रभावी विकल्प हो सकता है। तैलीय त्वचा वाले लोगों को इसका इस्तेमाल करना चाहिए। यह आपकी त्वचा के एक्सट्रा ऑयल को हटाटा है और साथ ही त्वचा को निखारने में भी मदद करता है। तैलीय त्वचा कई त्वचा संबंधी समस्याओं का कारण बनता है और साथ ही आपके आकर्षण को भी कम करता है। यह आपकी त्वचा के पोर्स को साफ करता है जिससे आपकी त्वचा गंदगी खत्म होती है और आपका त्वचा स्वस्थ रहता है। आइए जानते हैं तैलीय त्वचा के लिए शहद क्यों फायदेमंद होता है।  [ये भी पढ़ें: स्प्राउट्स का सेवन त्वचा के लिए कैसे फायदेमंद होता है]

क्लिंजर की तरह काम करता है:
शहद में एंटीऑक्सीडेंट होता है जो आपकी त्वचा के पोर्स को खोलता है और उनमें होने वाली गंदगी को साफ करता है और साथ ही यह आपकी त्वचा के लिए क्लिंजर की तरह भी काम करता है और निखार लाता है।

नमी प्रदान करता है:
शहद में एंटी-बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होता है जो आपकी त्वचा से अधिक तेल को अवशोषित करता है और साथ ही नमी भी प्रदान करता है। इसके अलावा यह त्वचा को इंफेक्शन से भी बचाने में मदद करता है।  [ये भी पढ़ें: चंदन के तेल के सौंदर्य लाभ]

एक्सट्रा ऑयल को कम करता है:
शहद में ह्यूमेक्टेंट गुण होता है जो त्वचा को नमी प्रदान करने में मदद करता है और साथ ही त्वचा में मौजूद अधिक तेल को भी कम करता है जिससे त्वचा में निखार आती है और साथ ही त्वचा कई समस्याओं से दूर रहता है।

मुंहासों को कम करता है:
तैलीय त्वचा में मुंहासों और पींपल्स की समस्या अधिक होती है। इस वजह से शहद का इस्तेमाल तैलीय त्वचा के लिए लाभकारी होता है क्योंकि इसमें एंटीसेप्टिक गुण होता है जो त्वचा के बैक्टीरिया और कीटाणुओं को नष्ट करने में मदद करता है।

रूखापन दूर करता है:
शहद नेचुरल मॉइश्चचराइजर की तरह काम करता है जो त्वचा के रूखेपन को दूर करता है और साथ ही त्वचा को पोषण भी प्रदान करता है क्योंकि इसमें विटामिन और मिनरल्स होता है और इसके अलावा तैलीय त्वचा से भी निजात पाने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: बालों को मजबूत और खूबसूरत बनाने के आयुर्वेदिक उपाय]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "