त्वचा को ब्रश करने से क्या फायदे होते हैं

Read in English
amazing benefits of dry brushing

त्वचा हमारे शरीर का सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण अंग होती है। यह शरीर के कई कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। त्वचा में कई कोशिकाएं और ग्रंथियां होती है जो शरीर का तापमान कंट्रोल करने, शरीर को माइक्रोबियल बैक्टीरिया से बचाने में में मदद करती है साथ ही गर्म, ठंडे का अनुभव कराता है। त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए इसे ब्रश करना जरुरी होता है। इस तकनीक को ड्राई ब्रशिंग कहते हैं। इस तकनीक के लिए एक बड़े ब्रश की जरुरत होती है जिसमें शरीर को ऊपरी हिस्से से लेकर पैरों तक स्क्रब किया जाता है। तो आइए आपको त्वचा को ब्रश करने के तरीकों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: टैनिंग को खत्म करने के लिए त्वचा पर लगाएं उबटन]

तनाव कम करता है: त्वचा को ब्रश करने से मसाज जैसा महसूस होता है। ड्राई ब्रशिंग से चिंता, तनाव कम होती है। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफोर्मेशन की एक रिपोर्ट के अुनसार पूरे शरीर की मसाज चिंता को कम करने में प्रभावी होती है और कोरोनरी डिसऑर्डर से ग्रसित मरीजों के लिए फायदेमंद होती है।

मृत कोशिकाओं को हटाता है: ड्राई ब्रशिंग से प्राकृतिक रुप से त्वचा से मृत कोशिकाएं हटती हैं। इस प्रक्रिया को एक्सफॉलिएशन कहते हैं। उम्र के साथ प्राकृतिक रुप से एक्सफॉलिएशन कम हो जाता है इस दौरान ड्राई ब्रशिंग आपकी मदद करती है। त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए हफ्ते में दो बार ड्राई ब्रशिंग करनी चाहिए। [ये भी पढ़ें: आसान टिप्स की मदद से कैसे पाएं खूबसूरत पैर]

ब्लड सर्कुलेशन और ऊर्जा में सुधार: त्वचा को ब्रश करने से एनर्जी बूस्ट होती है जिससे सर्कुलेट्री सिस्टम में सुधार होता है। ड्राई ब्रशिंग से त्वचा की कोशिकाएं डिटॉक्सीफाई हो जाती हैं।

बंद रोमछिद्रों को खोलता है: हमारी त्वचा में बहुत सारे खुले हुए रोमछिद्र होते हैं। जो धूल मिट्टी, प्रदूषण के कारण बंद हो जाते हैं। समय-समय पर त्वचा से मृत कोशिकाएं निकालना जरुरी होता है। इसके लिए ड्राई ब्रशिंग फायदेमंद होती है।

लिम्फेटिक सपोर्ट: लिम्फेटिक सिस्टम इम्यून सिस्टम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह लिम्फ नोड्स, डक्ट और कोशिकाओं को बना होता है जो पूरे शरीर में लिम्फ को इधर-उधर भेजता है। इनमें से कई लिम्फ कोशिकाएं त्वचा के लिए होती है। ड्राई ब्रशिंग की मदद से लिम्फ का प्रवाह उत्तेजित होता है जो शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: गर्मियों में खीरे से बना टोनर त्वचा के लिए कैसे लाभकारी होता है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "