किस समय सेक्स करने से आप करेंगे अधिक आनंद का अनुभव

what is the best time to have sex in a day

photo credit: ivankmit.com

प्यार एक ऐसी भावना है जो समय से बहुत परे है और यह किसी भी समय आ सकती है,ठीक उसी तरह सेक्स करने का मन कभी भी हो सकता है।इसे करने के लिए किसी परफेक्ट टाइम की जरुरत नहीं होती है। मगर बहुत बार कपल के मन में यह ख्याल जरुर आता है कि दिन में किस समय सेक्स करने से अधिकतम लाभ मिले, क्योंकि हमारा शरीर समय के अनुसार हॉर्मोन का निकास और दूसरी चीजों पर प्रतिक्रिया अलग देता है। तो आइए आपको सेक्स करने के समय के बारे में बताते हैं जिससे आप अधिक अुनभव ले सकते हैं।




सुबह 7:00 से 10:00 के बीच का समय: क्या आपको पता है सुबह का समय सेक्स करने के लिए सबसे उपयुक्त समय माना गया है बल्कि उस समय आंखों में नींद की खुमार होता है। अब आपको बताते हैं सुबह के समय सेक्स क्यों सबसे अधिक लाभदायक है और इसका सरल जवाब यह है कि पुरुषों में सेक्स को प्रभावित करने वाला हॉर्मोन टेस्टोस्टेरोन का स्तर सुबह के समय, पूरे दिन की तुलना में सबसे ज्यादा होता है। जब पुरुष के शरीर में बहुत अच्छी ऊर्जा हो और उसका टेस्टोस्टेरोन का स्तर भी अधिक हो तो वो सेक्स के दौरान लंबे समय तक परफॉरमेंस दे पाते हैं क्योंकि एक अच्छी नींद के बाद शरीर में सेक्स के दौरान अच्छी ऊर्जा खर्च करने के लिए होती है और आपका परफॉर्मेंस किसी से कम नहीं होता है। इसलिए सुबह का समय सेक्स करने के लिए सबसे उपयुक्त होता है। ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन एक प्राकृतिक दर्द निवारक के साथ-साथ आपके मूड में भी सुधार लाने में मदद करता है और सेक्स क्रिया को अधिक सुखद बनाता है।

दोपहर 12:00 से 3:00 के बीच का समय: अगर आप संतान प्राप्ति की अभिलाषा रखते है तो दोपहर 12 से 03 के बीच सेक्स का आनंद जरुर उठाना चाहिए, क्योंकि इस समय पुरुषो में एस्ट्रोजन का स्तर अधिक होने के कारण भावनात्मक रूप से अधिक उपलब्ध होते है और इस समय महिलाओं में तनाव हॉर्मोन कोर्टिसोल का स्तर भी ऊपर होता है जो उनके ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है। समय के इन घंटो में एक महिला की प्रजनन प्रणाली सबसे अच्‍छी होती है और इसके साथ वीर्य उत्‍पादन की भी अच्छी गुणवत्ता होती है इसलिए अगर आप अपने परिवार को बढ़ाना चाहते है तो असुरक्षित सेक्स का आनद उठाएं।

रात 8:00 से 11:00 के बीच का समय: अगर पूरे दिन की थकान और मेहनत और तनाव के बाद यदि आप और आपका पार्टनर, एक अच्छी और सुखद नींद की कामना करते है तो सेक्स का सहारा जरुर लें, क्योंकि चरमोत्कर्ष के बाद हमारा शरीर ऑक्सीटोसिन, एंडोर्फिन और सेराटोनिन जैसे होर्मोंस को रिलीज़ करता है जो आराम पहुंचाने के साथ-साथ दर्द निवाकर का काम करते है। इसके साथ साथ सेक्स तनाव और अवसाद को भी कम करता है जिसके कारण शरीर के अंदर आराम और शांतिपूर्ण भावना आती है और आप एक चैन की नींद सो पाते है।

आधी रात – 3:00 के बीच का समय: देर रात सेक्स या तो अविश्वसनीय रूप से सेक्सी या अविश्वसनीय रूप से निराशाजनक हो सकता है। आप अपने अति उत्साह में अपने प्रत्यक्ष कमी के कारण अपने पार्टनर को निश्चित रूप से अचंभित करेंगे, इसलिए बेहतर होगा कि इस समय के सेक्स को आप हमेशा टालने की कोशिश करें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "