Vikas Kumar

CONTENT WRITER

Vikas Kumar Works With Lifealth.Com as a Content Writer. A poet, admirer of Nagarjuna's writing. Loves to write, in spare time he is engrossed in reading novels. Also a movie buff, Manjhi is his favourite movie. His Twitter Handle Is @vikaskmandal.

chlamydia is the dangerous sexually transmitted diseases

यौन संचारित रोगों में सबसे ज्यादा घातक है क्लैमाइडिया

‘क्लैमाइडिया’ यौन संचारित रोगों में से एक है, जो कि एक बैक्टीरियल इन्फेक्शन है। यह ट्राकोमोटिस नामक जीवाणु के कारण होता है। आइए जानते हैं इसके कारण, लक्षण और उपचार के बारें में

know about low and ultra low dose of contraceptive pills

क्या होता है गर्भनिरोधक गोलियों का लो और अल्ट्रा लो डोज

गर्भनिरोधक गोलियों के प्रयोग द्वारा आसानी से जन्म नियंत्रण किया जा सकता है लेकिन कई बार इसके सेवन की सही मात्रा नहीं लेने के कारण बहुत से साइड इफेक्ट देखने को मिलते है। इसकी सही जानकारी का होना जरुरी है।

best contraception method in women

गर्भनिरोध का बेहतरीन उपाय है महिलाओं में होने वाली नसबंदी

गर्भनिरोध के लिए आज बहुत से तरीकों को अपनाया जा रहा है। उन्हीं में से एक है महिलाओं में होने वाली नसबंदी जो एक स्थायी गर्भनिरोधक है। जो जन्म नियंत्रण के लिए बहुत प्रभावशाली है।

know vasectomy is how much effective

कितना प्रभावित होता है पुरुषों का नसबंदी कराना

पुरुषों द्वारा करवाएं जाने वाली नसबंदी आज के समय में काफी प्रचलित भी है और ज्यादा सुरक्षित भी लेकिन बहुत से पुरुषों को इसकी सही जानकारी नहीं होती है।

what are the side effects of emergency contraceptive pills

प्रयोग से पहले इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स के बारें में जानें

इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स का प्रयोग आज बहुत ज्यादा बढ़ गया है जिसके काफी साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं। इन दवाओं से होने वाले साइड इफेक्ट से बचने के लिए जरुरी है कि इसके बारें में सही जानकारी प्राप्त हो।

know how birth control pills affect periods

गर्भनिरोधक दवाइयां कैसे प्रभावित करती हैं पीरियड्स को

कई बार महिलाओं को अपने पीरियड्स को रोकने की जरूरत पड़ती है। इसके लिए गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करने की सलाह दी जाती है। जिससे पीरियड्स को रोका जा सकता है।